ठाणेः साध्वी श्री राकेश कुमारीजी व साध्वी श्री प्रज्ञा श्रीजी का आध्यात्मिक मिलन समारोह

ठाणे। तेरापंथ भवन,ठाणे में नयनाभिराम दृश्य सापेक्ष हुआ। ठाणे भवन में प्रवासरत साध्वीश्री राकेश कुमारीजी ठाणा4 एवं वसई चातुर्मास पूर्ण कर पधारे साध्वीश्री प्रज्ञाश्रीजी ठाणा4 का आध्यात्मिक मिलन हुआ। साध्वीश्री राकेश कुमारीजी ने आगे बढ़कर सतियो के स्वागत में गीतिका प्रेषित की तो साध्वीश्री प्रज्ञाश्री जी ने जबाब में अभिनंदन और धन्यवाद ज्ञापित करते हुवे गीतिका समर्पित की।
महिला मंडल की ओर से स्वागतगीत प्रस्तुत हुआ। तेरापंथी सभा,ठाणे के अध्यक्ष श्रीमान रमेश सोनी ने साध्वीश्री एवं पूरे परिषद का स्वागत करते हुवे अधिक से अधिक प्रवास के लिए निवेदन किया।
साध्वीश्री राकेश कुमारीजी ने फरमाया तेरापंथ धर्मसंघ एक गुरु और एक विधान के तहत अतिशय पल्लवित हो रहा है। आचार्यो से संप्रेषित ऊर्जा, विनीत और श्रद्धानिष्ठ श्रावक समाज और समर्पित धवल सेना यह सभी तेरापंथ धर्मसंघ के आधारस्तंभ है।
साध्वीश्री प्रज्ञाश्रीजी ने फरमाया इस तरह के नजारे सिर्फ तेरापंथ धर्म संघ में ही देखने को मिलते है।
जिससे श्रद्धा, विनय, प्रमोद भावना का विकास होता है। साध्वीश्री विनय प्रभाजी, साध्वीश्री सरलप्रभाजी, साध्वीश्री विपुलयशाजी, साध्वीश्री प्रतिकप्रभाजी और साध्वीश्री मलयवीभाजी साध्वीश्री तेजस्विप्रभाजी ने अपनी भावना रखी।सभी सतियो ने सामूहिक गीतिका प्रस्तुत की। दो धाराएं अलग दिशाओ से आकर आज ठाणे भवन में मिलकर एकरूप हो गयी।
महिला मंडल ठाणे सिटी अध्यक्षा अनिता धारीवाल ने साध्वियों के स्वागत के साथ अपना मनोगत प्रेषित किया। कुशल संचालन सभा उपाध्यक्ष श्री विमल गादिया ने किया। कार्यक्रम में मुंब्रा, ऐरोली, वसई एवं ठाणे के सभी क्षेत्रों से बहुत अच्छी उपस्थिति रही व उत्साही समाज एवं पदाधिकारी समागत हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *