डब्ल्यूएचओ ने कहा- भारत में कोविड-19 को हराने की अद्भुत क्षमता, चेचक-पोलियो उदाहरण

0
15

कोरोनावायरस के कारण देश पूरी तरह लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहा है। 28 राज्यों में से 24 और 8 केंद्र शासित प्रदेशों में से 6 में लॉकडाउन और 3 राज्यों के कुछ जिलों में भी पाबंदी है। इस बीच, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के डायरेक्टर डॉ. माइकल जे रायन ने कहा है कि भारत में कोरोनावायरस से लड़ने की अद्भुत क्षमता है। यह देश महामारी से निपटना अच्छी तरह से जानता है और चेचक-पोलियो को हरा चुका है।
घनी आबादी के कारण मामले बढ़ेंगे

डॉ. माइकल जे रायन के मुताबिक, जहां पर भी कोरोनावायरस संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है, वहां लैब की संख्या बढ़ाने की जरूरत है। भारत अधिक जनसंख्या वाला देश है और घनी आबादी होने के कारण यहां कोरोना के मामले बढ़ेंगे। इसलिए एहतियाती कदम उठाने होंगे। इस वैश्विक महामारी का भविष्य इस बात पर निर्भर करेगा कि भारत इसे कैसे संभालता है।

भारत से हैं डब्ल्यूएचओ को उम्मीदें
डॉ. माइकल ने कहा- सवालों का जवाब देना आसान नहीं है। लेकिन यह जरूरी है कि भारत दुनिया के सामने ऐसा उदाहरण पेश करे, जैसा आज तक कोई दूसरा देश नहीं कर पाया। भारत ने जिस तरह से कोरोना से लडने में तेजी दिखाई और एक्शन लिया उसकी तारीफ डब्ल्यूएचओ के रीजनल इमरजेंसी डायरेक्टर डॉ. रॉड्रिको ऑफरिन ने भी की।

भारत ने जो कदम उठाए वो जंग जीतने में मदद करेंगे : डब्ल्यूएचओ
डॉ. रॉड्रिको ने कहा- सोशल डिस्टेंसिंग, क्वारेंटाइन, कोरोना प्रभावित 75 जिलों में लॉकडाउन, रेल पर रोक और बसों-मेट्रो को बंद करके भारत में बड़े कदम उठाए गए हैं। यह ऐसी पहल हैं, जो इस वायरस को फैलने से रोकने में मदद करेगी। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, दुनियाभर में कोविड-19 के 3,30,000 मामले सामने आ चुके हैं। मौत का आंकड़ा 14,000 को पार कर गया है।

देश में कोरोनावायरस संक्रमितों की संख्या 525 हुई

देश में कोरोनावायरस संक्रमितों की संख्या 525 हो गई, जबकि 10 लोगों की मौत हो चुकी हैं। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 101 मामलों की पुष्टि हुई। दूसरे नंबर पर केरल (95) है। वहीं, मंगलवार को मणिपुर में संक्रमण का पहला मामला सामने आया। 23 साल की संक्रमित लड़की हाल ही में ब्रिटेन से लौटी थी। संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 32 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 560 जिलों में पूरी तरह लॉकडाउन की घोषणा की गई है।

पहली बार 33 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लॉकडाउन

देश में कोरोनावायरस के मामले दिन गुजरने के साथ-साथ बढ़ते ही जा रहे हैं। इसके चलते दिल्ली, पंजाब, महाराष्ट्र, चंडीगढ़, गोवा और केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में 31 मार्च तक कर्फ्यू लागू हो गया है। अबतक देशभर के 33 राज्यों के 594 जिले लॉकडाउन हो चुके हैं। देश में अब तक कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 523 पहुंच गई है। इस बीमारी से अब तक देश में 10 मौतें भी हो चुकी हैं।

देश के इतिहास में ऐसा लॉकडाउन पहली बार है। लॉकडाउन में लोगों को घरों से निकलने की अनुमति नहीं होगी। अगर कोई बाहर निकलता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उसे गिरफ्तार भी किया जा सकता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)