आरे में पेड़ कटाई का विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों पर दर्ज मुकदमे वापस, सीएम उद्धव ठाकरे ने की घोषणा

0
20

मुंबई। मुंबई के आरे कॉलोनी में मेट्रो कारशेड के लिए पेड़ कटाई का विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों पर दर्ज मुकदमे नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने वापस लेने की घोषणा की है। यह जानकारी सीएम उद्धव ठाकरे के आधिकारिक ट्विटर हैंडल के जरिए दी गई। उल्लेखनीय है कि मेट्रो कारशेड के लिए आरे कॉलोनी में लगभग 2700 हरे भरे पेड़ों को काट दिया गया था, जिसे लेकर भारी हंगामा हुआ था तथा तमाम प्रदर्शनकारियों पर मुंबई पुलिस  ने मामले दर्ज कर कार्रवाई की थी।

जानकारी के अनुसार, रविवार को इस बात की जानकारी मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दी। उन्होंने लिखा है कि कल परसों मैने कारे कॉलोनी में बन रहे कारशेड को स्थगित कर दिया है तथा जंगल के कत्ल के समय प्रदर्शन कर रहे जिन पर्यावरणप्रेमियों पर आपराधिक मामले दर्ज किए गए थे, उन्हें वापस लेने के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा यह ट्वीट मराठी में किया गया है।

उल्लेखनीय है कि पिछले महीने चुनाव के दौरान ही मुंबई के आरे कॉलोनी में कोर्ट के आदेश पर रातों-रात 2700 हरे पेड़ों को मेट्रो कारशेड बनाने के लिए काट दिए गए थे। इस दौरान कारशेड और हरे पेड़ों की कटाई का विरोध कर रहे तमाम पर्यावरण प्रेमियों पर आपराधिक मामले दर्ज किए गए थे। पेड़ों की कटाई में व्यवधान न आए इसलिए फडणवीस सरकार ने धारा 144 भी लागू कर दिया था। हालांकि उस समय कांग्रेस सहित शिवसेना ने भी इन पेड़ों की कटाई को लेकर तीखी प्रतिक्रिया दी थी।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के इस निर्णय पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने ट्विटर पर लिखा है कि आरे कॉलोनी में मेट्रो कारशेड का विरोध करने वाले आंदोलनकारियों पर दर्ज मामले वापस लेना अत्यंत उचित है। महाविकास आघाड़ी के इस निर्णय का स्वागत है। पर्यावरण प्रेमियों की जगह जेल में नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)