एलपीजी से कम खर्च पर सोलर सिस्टम से पका सकेंगे खाना

0
4

नई दिल्ली:सोई गैस कनेक्शन और मुफ्त बिजली कनेक्शन देने के बाद केंद्र सरकार अब किस्तों पर 50 हजार रुपये वाला सोलर पीवी कुकिंग सिस्टम देने की तैयारी में है। लोकसभा चुनाव से पहले सरकार आसान किस्तों पर सभी को सोलर कुकिंग सिस्टम देने की घोषणा कर सकती है। इस सोलर कुकिंग सिस्टम पर केंद्र सरकार 30 फीसदी की सब्सिडी भी मुहैया कराएगी। नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा (एमएनआरई) मंत्रालय ने सोलर कुकिंग सिस्टम योजना को अंतिम रूप दे दिया है। एमएनआरई मंत्रालय कुकिंग सिस्टम पर तीस फीसदी की सब्सिडी मुहैया कराएगी। राज्य सरकार भी अपनी तरफ से सोलर कुकिंग सिस्टम लेने वालों को सब्सिडी उपलब्ध करा सकती है। वहीं नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (एमएनआरई) ने बताया कि सोलर पीवी कुकिंग सिस्टम कि बैटरी को  पांच साल बाद बदलने की जरुरत पड़ सकती है।
एलपीजी से कम खर्च पर पका सकेंगे खाना 
नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा (एमएनआरई) मंत्रालय ने बताया कि सोलर पीवी कुकिंग सिस्टम से एलपीजी से कर्म खर्च पर खाना पकाया जा सकेगा। उपभोक्ता सोलर पीवी कुकिंग सिस्टम पर सब्सिडी के बाद बची राशि का आसान किस्तों में भुगतान कर सकते हैं। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, इन किस्तों का भुगतान एलपीजी सब्सिडी के जरिये भी किया जा सकता है। उपभोक्ता को अपनी एलपीजी सब्सिडी छोड़नी होगी।
दिल्ली के बाजारों से नदारद सोलर कुकर
दिल्ली के प्रमुख बाजारों से सोलर कुकर खरीदने की तैयारी कर रहे हैं ध्यान रखें कि इसके लिए आपकों कई बाजारों की छाक छानने पर भी यह नहीं मिलेगा। लक्ष्मी नगर, शाहदरा, लाजपत नगर, करोलबाग और एशिया के सबसे बड़े थोक मार्केट सदर बाजार से भी सोलर कुकर नदारद हैं।
ऐसे मिलेगी सब्सिडी
चार-पांच सदस्यों के परिवार के लिए सिस्टम की कीमत करीब 50 हजार होगी। एमएनआरई मंत्रालय 30 प्रतिशत सब्सिडी देगा। उपभोक्ता को 35 हजार का पड़ेगा। राज्य सरकार भी अपनी ओर से कुछ सब्सिडी दे सकती है। मान लिया जाए कि राज्य सरकार ने पांच हजार की सब्सिडी दी। उपभोक्ता को 30 हजार देने होंगे।
दिल्ली में अभी यह संभव नहीं 
कंफडरेशन आफ सदर बाजार ट्रेड एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष स्वामी मनोहर लाल आंनद कहते हैं कि सदर बाजार से देश के सभी कोने में समान भेजा जाता है, लेकिन ऐसा अभी तक कोई भी मामला उनके सामने आया है, जब किसी दुकानदार या ग्राहक ने सोलर कुकर की मांग की हो। उन्होंने कहा कि सोलर कुकर को चलाने के लिए पैनल भी जरूरी है। जिसके लिए जगह चाहिए, दिल्ली में यह संभव नहीं है।
ऐसे काम करेगा 
– सोलर पीवी कुकिंग सिस्टम पर सभी तरह के पकवान बना सकते हैं
– यह बिल्कुल बिजली के इंडक्शन कुकर की तरह काम करेगा
– सोलर पैनल से बिजली लगातार चार्ज कंट्रोलर में आएगी
– चार्ज कंट्रोलर के साथ बैटरी लगी होगी
– जो सूर्य का प्रकाश खत्म होने पर कुकर को बिजली मुहैया कराएगी
– चार्ज कंट्रोलर के साथ रेजोनेंट कनवर्टर होगा
– यह डीसी को एसी में बदल कर इंडक्शन कुकर को सप्लाई कर देगा
– चार-पांच सदस्यों के परिवार के लिए खाना बनाया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)