नाना पाटेकर पटना में दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत के परिवार से मिले

0
10

पटना:अभिनेता नाना पाटेकर और रालोसपा के अध्यक्ष उपेंद्र सिंह कुश्वाहा रविवार को पटना में दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के परिवार से मिले। इस दौरान उन्होंने सुशांत सिंह के पिता और अन्य परिजनों से मुलाकार कर उन्हें ढ़ांढस बंधाया।

करीब 20 मिनट तक सुशांत के घर रुकने के बाद नाना पाटेकर वहां से सीधे पटना एयरपोर्ट के लिए रवाना हो गए। इस दौरान नाना पाटेकर ने मीडिया से बिल्कुल भी बात नहीं की।

इससे पहले जाने-माने फिल्म अभिनेता नाना पाटेकर शनिवार को मुंबई से मोकामा पहुंचे थे। इस दौरान वे मोकामा में जवानों और किसानों से मिले। खेतों में हल चलाया। चरखा चलाया। सूत काटे। किसानों से खेती को लेकर बात भी की। गंगा किनारे होने वाली खेती भी देखी। एक बॉलीवुड अभिनेता को अपने बीच पाकर किसान, जवान और स्थानीय ग्रामीण काफी उत्साहित दिखे। वे जहां निकलते लोगों की भीड़ साथ चल पड़ रही थी।

लोगों से मिले प्यार से इतने अभिभूत हो गये कि फिर आने का वादा भी किया। किसानों संग दो दिन गांव में बिताने की भी बात कही। नाना पाटेकर के इस विशेष दौरे का मकसद जवानों के साथ ही किसानों का उत्साहवर्धन करना था। गमन, प्रहार, परिंदा, क्रांतिवीर, अग्निसाक्षी, अपहरण, राजनीति, वेल्कम जैसी फिल्मों में अभिनय से लोगों के चहेते बने अभिनेता नाना पाटेकर स्थानीय सीआरपीएफ ट्रेंनिग सेंटर गये। वे जवानों से मिले और उनसे बातें की। उनके शौर्य को सराहा और हौसला बढ़ाया।

आयुर्वेदिक खेती को बढ़ावा देने को कहा
जवानों से मिलने के बाद वे किसानों से मिलने गये। खेतों में हल चलाया। किसानों में जैविक और आयुर्वेदिक खेती को बढ़ावा देने के मकसद से उन्होंने हल भी चलाया। उनके हल चलाने के लिये खासतौर पर देसी बैल की व्यवस्था की गयी थी। देसी बैल का इस्तेमाल उन्होंने इसलिये किया ताकि पशुपालक देसी पशुधन के पालन को प्रेरित हों। इस दौरान पाटेकर ने यादगार स्वरूप रामटोला गंगा किनारे पौधरोपण किया। उन्होंने गंगा किनारे हो रही खेती भी देखी।

गांव में आकर दो दिन साथ बिताने का किया वादा
अभिनेता नाना पाटेकर बाद में औंटा गांव स्थित मोकामा ग्राम स्वराज्य समिति खादी भवन भी पहुंचे। यहां पर सूत भी काटे। मोकामा ग्राम स्वराज्य समिति खादी भवन औंटा के अध्यक्ष सुनील कुमार ने उनको खादी ग्रामोद्योग की जानकारी दी। यहां भीड़ जुट गई। नाना ने लोगों का अभिवादन किया और फिर आकर ग्रामीणों संग दो दिन बिताने का वादा किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here