डोंबिवली कन्या मंडल की “SMART Goal Setting” कार्यशाला संपन्न

0
39

डोंबिवली। तेरापंथ महिला मंडल मुंबई व तेरापंथ कन्या मंडल मुंबई के तत्वावधान में डोंबिवली कन्या मंडल द्वारा “SMART Goal Setting” कार्यशाला का आयोजन हुआ। इस कार्यशाला का आयोजन दो पढ़ाव में हुआ। कार्यशाला के पहले पड़ाव का आयोजन डोंबिवली सभाभवन में हुआ।
कार्यशाला की शुरुआत नमस्कार महामंत्र से हुई। कन्याओं ने महाप्रज्ञ अष्टकम का संगान कर मंगलाचरण की प्रस्तुति दी। डोंबिवली महिला मंडल सदस्य श्रीमती रेखाजी कच्छारा ने महाप्रज्ञ अष्टकम के पहले दो पद्य का अर्थ विस्तार में समझाया और अगले दो पद्य का शुद्ध उच्चारण बताया। साथ ही उन्होंने आचार्य श्री महाप्रज्ञ जी द्वारा निर्मित योगक्रिया “सर्वेंद्रीय” महत्व-सहित सिखाया। प्रभारी श्रीमती पिंकीजी परमार ने “लक्ष्य को स्थापित करने के लिए SMART का क्या महत्व है” इस पर कन्याओं के साथ इंटरएक्टिव सेशन किया। मुंबई कन्या मंडल सहप्रभारी श्रीमती जूलीजी मेहता ने कन्याओं को भक्तांबर का महत्व समझाया। तत्पश्चात सहसंयोजिका आशी सिंघवी ने “Think It and Ink It” स्पर्धा की शुरुआत की, जिसमें कन्याओं को अपनी क्रिएटिविटी के साथ दिए गए शब्ध को अपने लक्ष्य से जोड़कर शब्दों में लिखकर या चित्रित कर प्रस्तुत करना था। इसमें प्रथम स्थान इशिका कोठारी, द्वितीय स्थान श्रुति सिंघवी, तृतीय स्थान‌ मेघना सिंघवी व किंजल डांगी और कॉन्सलेशन प्राइज हिनल बाफना व निधि बोलियां ने प्राप्त किया। २० कन्याओं की उपस्थिति रही। कार्यशाला का आभार ज्ञापन व कुशल संचालन सह संयोजिका रिंपल सिंघवी ने किया।
कार्यशाला का दुसरा पढ़ाव प्रभारी पिंकीजी परमार द्वारा प्रायोजित “Karnala Bird Sanctuary (Trek)” में हुआ। जिसमें उचाई पर पहुंचने पर “Rate Your Goal” एक्टिविटी का संचालन किया गया। जिसमें कन्याओं को SMART को ध्यान में रखते हुए अपने लक्ष्य का मूल्यांकन करना था। मुंबई कन्यामंडल सहसंयोजिका हिनलजी बाफना, डोंबिवली कन्यामंडल से जिज्ञासा सिंघवी और मुंबई कन्यामंडल सहप्रभारी श्रीमती जूलीजी मेहता ने “Goal Setting” पर अपने ज्ञान और अनुभव के अनुसार अपने विचार व्यक्त किए। “Selfie with Nature” और “Maximum Number of Birds Identification” यह दो स्पर्धा की गई। अंत में ट्रेक गाइड्स ने “Focus Your Goal” पर आधारित खेल का आयोजन किया। कूल १९ कन्याओं की उपस्थिति रही। डोंबिवली महिला मंडल संयोजिका श्रीमती मधुजी कोठारी व कन्या मंडल सहप्रभारी श्रीमती ममताजी कच्छारा भी इसमें सम्मिलित हुए। इस कार्यशाला का समापन प्रभारी श्रीमती पिंकीजी परमार द्वारा आभार ज्ञापन व महाप्रज्ञ अष्टकम पाठ करने की प्रेरणा से हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)