ब्राजील:महिला फुटबॉल टीम ने गोल स्कोर को 20% कम करके लिखा, पुरुषों से कम मेहनताना दिए जाने का विरोध

0
8

साओ पाउलो:ब्राजील में महिला फुटबॉल खिलाड़ियों ने कम मेहनताने का विरोध करने के लिए, मैच के दौरान गोल स्कोर को 20% कम करके दिखाया। हाल ही में एक रिसर्च में पता चला कि महिला खिलाड़ियों को पुरुषों के मुकाबले 20% कम मेहनताना दिया जाता है। खिलाड़ियों ने इसका विरोध करते हुए शनिवार को पाओलिस्टा वुमन्स चैम्पियनशिप के फाइनल में गोल स्कोर को 20% करके लिखा।
इस टूर्नामेंट के फाइनल में कोरिंथियन्स ने साओ पाओलोस को 3-0 से हराया था। मैच का पहला गोल शुरुआती पांचवें मिनट में विक्टोरिया अल्बुकर्क ने किया था, जिसे 20% कम करके स्कोरबोर्ड पर 0.8 दर्शाया गया।
इसके बाद दूसरा गोल जूलियट ने किया, जिसे 1.6 दिखाया गया। मिलेन के द्वारा किए गए तीसरे गोल को स्कोरबोर्ड पर 2.4 दिखाया गया। मैच के दौरान रिकॉर्ड 28,862 दर्शक स्टेडियम में मौजूद रहे। ब्राजील में अब तक किसी भी महिला फुटबॉल मैच में इतने फैंस मौजूद नहीं रहे।
‘आज के समय यह विरोध जरूरी’
कम मेहनताने के खिलाफ विरोध के लिए इस तरीके का इस्तेमाल पाओलिस्टा फुटबॉल फेडरेशन (एफपीएफ) ने यूएन महिला और विज्ञापन एजेंसी बीईटीसी के साथ मिलकर किया। एफटीएफ की डायरेक्टर अलाइन पेलेग्रिनो ने कहा, ‘‘विरोध के इस अनोखे तरीके से यह सवाल किया जा रहा है कि महिलाओं को क्यों पुरुषों के मुकाबले कम मेहनताना दिया जाता है। यह आज के समय में बहुत जरूरी हो गया है।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)