आचार्य महाश्रमण जी के 2023 चातुर्मास प्रवास व्यवस्था समिति के अध्यक्ष बने मदनलाल तातेड़, गुरुदेव ने सुनाया मंगलपाठ

0
768

बैंगलोर/मुम्बई : शुक्रवार को बैगलोर की पावन धरा पर चातुर्मासिक प्रवेश के पश्चात पूज्य गुरुदेव आचार्य श्री महाश्रमण जी ने महती कृपा कर मुम्बई में होने वाले 2023 के चातुर्मास के लिए श्री महाश्रमण चातुर्मास प्रवास व्यव्स्था समिति के अध्यक्ष मदनलाल तातेड़ को मंगल पाठ प्रदान किया।
इस अवसर पर मुम्बई से भारी संख्या में श्रावकों की उपस्थिति रही। गुरुदेव के मुखारबिंद से मंगल पाठ सुनने के बाद मुम्बई से पधारे सभी श्रावकों में 2023 चातुर्मास को लेकर उनके अंदर एक अलग सी ऊर्जा का संचार हो गया हो।
आचार्य श्री महाश्रमण जी ने 2023 के चातुर्मास प्रवास व्यस्था समिति के अध्यक्ष के रूप में मदन तातेड़ के नाम की घोषणा अपने अमृति मयी वाणी से किया।
इस पर श्री तातेड़ ने गुरुदेव के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करते हुए कहा कि मैं आचार्य श्री के प्रति अनंत कृतग्यता ज्ञापित करता हूँ साथ ही आभार प्रगट करता हूँ । क्योंकि आप ने मुझे 2023 चातुर्मास प्रवास व्यवस्था समिति का अध्यक्ष बनाया मैंने कभी सपने में भी नही सोचा था कि मैं बैक बेंच पर बैठनर वाला व्यक्ति समाज की इतनी बड़ी जवाबदारी मुझे मिलेगी। मैने कभी पद की लालसा नही रखी मैं एक आम कार्यकर्ता की तरह इस जवाबदारी का निर्वहन करने की पूरी कोशिश करूंगा।

मुम्बई सभा अध्यक्ष नरेंद्र तातेड़ ने कहा कि गुरुदेव आप के द्वारा मुम्बई में 2023 का चातुर्मास फ़रमाने के पश्चात से ही पूरे समाज में अलग सी ऊर्जा दिखाई दे रही हैं। साथ ही सम्पूर्ण समाज के साथ अध्यक्ष ने गुरुदेव के प्रति एक गीत के माध्यम से कृतग्यता ज्ञापित किया।
भंवरलाल कर्णावट ने कहा कि हम इस चातुर्मास को आप के आशीर्वाद से सफलतम चातुर्मास बनाएंगे जिसकी गूंज पूरे देश भर में होंगी।
महासभा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष किशनलाल डागलिया ने कहा कि आचार्य श्री के मुख से जिस व्यक्ति का नाम किसी पद के लिए निकलता है वो अपने आप में शौभाग्यशाली होता है।
अभातेयुप के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भलावत ने कहा कि गुरुदेव आपने मदन लाल तातेड़ के नाम की घोषणा की है हमें बहुत हर्ष है और पूरा समाज उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चातुर्मास को सफलतम चातुर्मास बनाएंगे।
इस मौके पर मुम्बई से बड़ी संख्या में पदाधिकारी बंगलोर गुरुदेव के चातुर्मास प्रवेश पर पहुंचे थे जिनमें नरेंद्र कुमार जैन, विजय पटवारी, ख्यालीलाल तातेड़, योगेश चौधरी, बाबूलाल मांगीलाल जैन, विनोद कुमार बोहरा, किशनलाल डागलिया, गणपत डागलिया, बालचंद एच जैन, शांतिलाल जैन, सुरेश डी मेहता, भगवती पटवारी, अनिल परमार, सलिल लोढा, देवीलाल बी जैन, मदनलाल तातेड़, महेंद्र कुमार तातेड़, रजनीश मेहता, विनोद कुमार सोलंकी, मूलचंद लोढा, गौतम डांगी, शांतिलाल जैन, अशोकुमार तातेड़, निर्मल कुमार कोठारी, महेश बापना, महेंद्र जैन (ठाणे), पुखराज जैन, राजेन्द्र नौलखा, संपत वागरेचा, सुशील मेड़तवाल, लादूलाल जैन, निर्मल कुमार बी जैन, नरेंद्र जैन, रमेश जैन, भीमराज जैन, ताराचंद जैन, दिनेश जैन, बाबूलाल जैन, भगवती धाकड़, लक्ष्मीलाल डागलिया, सुरेश डागलिया, सुरेश राठौड़, सुरेंद्र कोठारी, अमृतलाल जैन (वाशी), विनोदकुमार भंवरलाल जैन, सम्पतलाल मादरेचा, सुखलाल जैन, हस्तीमल मेहता, अनिल कुमार सोहनलाल सिंघवी, भरत कुमार हनुमानलाल डूगर, नरेंद्र डागा, भानुकुमार नाहटा, विनोद कुमार बाफना, तनसुख चोरडिया, रतनलाल जैन, मांगीलाल छातर, अविनाश इंटोदिया, रमेश सुतरिया, अनिल सिंघवी, रिंकू बाफना, नरेश चपलोत, प्रशांत तातेड़, निर्मल तातेड़, कन्हैयालाल मेहता एवं गौतम कोठारी आदि शामिल हैं। कार्यक्रम का संचालन मुम्बई सभा के मंत्री विजय पटवारी ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)