अपहरण के 13 साल बाद देह व्यापार के ‘नर्क’ से आजाद हुई युवती

हैदराबाद।तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में एक 24 वर्षीय युवती अपने अपहरण के 13 साल बाद अपहरणकर्ताओं के चंगुल से आजाद होकर पुलिस के पास पहुंचने में कामयाब हुई। पुलिस के पास पहुंचने वाली इस पीड़िता को करीब 13 साल पहले अपहरण करने के बाद 20 हजार रुपये में बेच दिया गया था। युवती गुरुवार को हैदराबाद के अब्दुल्लापुरमेट इलाके में अपहर्ताओं को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गई।
बताया जा रहा है कि पीड़ित युवती 13 साल पहले हैदराबाद के एक घर में नौकरानी के रूप में काम करती थी। इसी दौरान पवित्रा नाम की एक महिला ने उसे अच्छी नौकरी दिलाने का झांसा देकर अपने पास बुलाया और फिर उसे 20 हजार रुपये में यहां पद्माम्मा नाम की एक मानव तस्कर को बेच दिया। इसके बाद पद्माम्मा ने पीड़िता को देह व्यापार के नर्क में ढकेल दिया।
अब्दुल्लापुरमेट इलाके के इंस्पेक्टर डी मुनि ने बताया की 65 साल की पद्माम्मा अपने परिवार और रिश्तेदारों के साथ मिलकर आंध्र प्रदेश में देह व्यापार का एक बड़ा गिरोह चलाती थी और इस गिरोह द्वारा नाबालिग युवतियों और महिलाओं को फंसाकर उन्हें देह व्यापार के दलदल में डाल दिया जाता था। गिरोह के सदस्य हर महीने लड़कियों को 5-6 हजार रुपये की तनख्वाह दिया करते थे और शेष बचा सारा पैसा खुद रख लिया करते थे।
पुलिस ने 3 लोगों को किया गिरफ्तार, कई अन्य फरार
पुलिस के मुताबिक गुरुवार को पीड़िता अपहर्ताओं को चंगुल से आजाद होने के बाद पुलिस के पास पहुंची थी। इसके बाद पुलिस ने उसके बयान के आधार पर शनिवार को देह व्यापार में शामिल 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि पद्माम्मा के सहयोगी अचम्मा, अंजलि, शोभा, अजनम्मा और पवित्रा अब भी फरार हैं। पुलिस के मुताबिक फरार लोगों की तलाश के लिए पद्माम्मा के कई रिश्तेदारों के घर पर छापेमारी की जा रही है। पुलिस ने बताया कि पीड़ित लड़की को नारी आश्रय केंद्र में भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *