निर्माणाधीन बहुमंजिला इमारत गिरी, हादसे में दो लोगों की मौत

0
15

नोएडा:दिल्ली से सटे नोएडा के सेक्टर-11 में शुक्रवार देर शाम एक निर्माणाधीन बहुमंजिला इमारत गिर गई। हादसे में दो लोगों की मौत हो गई है। वहीं कई लोगों के दबे होने की आशंका है। अभी तक 4 लोगों को मलबे से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। हादसा सेक्टर-24 थाना क्षेत्र के सेक्टर-11 में हुआ है। मृतकों की पहचान ठेकेदार जैनेंद्र और मजदूर गोपी के रूप में हुई है। दोनों कानपुर देहात के रहने वाले थे और रिश्तेदार भी लगते थे। घायलों में लोनी का सागर और बागपत छपरौली का राहुल शामिल है।

नोएडा में इमारत गिरने की घटना पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान लिया है। उन्होंने नोएडा पुलिस कमिश्नर को मौके पर पहुंचने का निर्देश भी जारी किया है। फिलहाल एनडीआरएफ की टीम राहत व बचाव कार्य में जुटी हुई है।

मौके पर पहुंचीं नोएडा की अपर पुलिस आयुक्त ने बताया कि सेक्टर-11 में स्थित एफ-2 बिल्डिंग के आगे का हिस्सा गिर गया है। चार लोगों को अभी तक सुरक्षित निकाल लिया गया है। तीन लोग पूरी तरह ठीक हैं लेकिन एक की स्थित गंभीर है।

इमारत गिरने की वजहों पर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि यह तो जांच के बाद ही पता चल पाएगा। वैसे मकान मालिक ने बताया है कि यहां पर प्लंबिंग का काम होता था। अपर पुलिस आयुक्त ने बताया कि पता चला है कि यहां पर सोलर पैनल निर्माण का काम भी होता था। मिली जानकारी के मुताबिक, सेक्टर 108 निवासी आरके भारद्वाज की बिल्डिंग बताई जा रही है।

शुक्रवार देर शाम को हुए इस हादसे से आसपास के इलाकों में दहशत का माहौल हो गया। आनन-फानन में स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना प्रशासन को दी। जानकारी मिलते ही प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच गई और राहत व बचाव कार्य शुरू कर दिया। मौके पर पुलिस प्रशासन के बड़े अधिकारी पहुंच गए हैं। पुलिस बल के साथ नोएडा डीएसपी और फायर बिग्रेड की टीम मौजूद है। इसके अलावा पुलिस कमिश्नर ने एनडीआरएफ की टीम भी भेज दी है।

पहले भी गिर चुकी है कई बिल्डिंग

इससे पहले भी नोएडा में कई निर्माणाधीन बिल्डिंग गिर चुकी है। लगभग एक साल पहले ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी में एक 6 मंजिला निर्माणाधीन इमारत के गिरने से 9 लोगों की मौत हो गई थी। इनमें पांच पुरुष, तीन महिला और एक बच्ची शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here