चेंबूर ज्ञानशाला में संपर्क पखवाड़े का हुआ आयोजन

0
55

मुंबई। चेंबूर ज्ञानशाला में 26 जुलाई रविवार को जूम ऐप के माध्यम से संपर्क पखवाड़े का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य प्रशिक्षक शर्मिला जी वडाला ने नमस्कार महामंत्र व सेजल जी धोका ने मंगलाचरण के  द्वारा की। संपर्क पखवाड़े में समागत सभी गणमान्य पदाधिकारी और अभिभावकों का स्वागत सुनीता जी बड़ाला ने किया। तत्पश्चात ज्ञानशाला की जनवरी से लेकर जून तक की  गतिविधियों के बारे में सभीअपनी अपनी क्लास की  टीचर्स ने  छोटे-छोटे वीडियो  क्लीपिंग के द्वारा बताया। और अपनी अपनी क्लास को बहुत ही सुन्दर तरीके से  रिप्रेजेंट किया।
अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष संदीप जी कोठारी, चेंबूर सभा अध्यक्ष मूलचंद जी लोढा, सभा मंत्री रमेश जी धोका, ज्ञानशाला के संयोजक व जैन विद्या के केंद्र व्यवस्थापक सुशील जी हिरण, ज्ञानशाला के जीतमल जॉन की संयोजिका वनीता जी हिरण, महिला मंडल की संयोजिका वनीता जी बाफना, टी वाय पी के अध्यक्ष रिंकू जी बाफना ने चेंबूर ज्ञानशाला की भूरी भूरी प्रशंसा करते हुए कहा कि  कोरोना महामारी के इस विकट समय में भी हमारी प्रशिक्षिकाओं ने इस प्रकार इलेक्ट्रोनिक माध्यम का उपयोग करते हुए बच्चों को ज्ञानार्जन के लिए प्रेरित किया वह काबिले तारीफ है। सुशील जी हिरण ने सभी अभिभावको से अनुरोध किया की चेंबूर परिवार से अधिक से अधिक बच्चे जो 4 से 14 वर्ष के हैं वो सभी ज्ञानशाला से जरूर जुड़े।
जैन विद्या की जानकारी देते हुए जैन विद्या से जुड़कर स्वयं की आत्मा विकास और ज्ञान चेतना का विकास करने के लिए भी निवेदन किया। जॉन संयोजिका वनीता जी ने जॉन मै हुई गतिविधियों के बारे में जानकारी दी।    जॉन कि प्रत्येक एक्टिविटी मै चेंबूर की  ज्यादा ज्यादा से  प्रशिक्षिकाओं का पार्ट लेने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। संपर्क पखवाड़े की जानकारी शर्मिला जी बड़ाला ने दी।
विशेष उपस्थिति ए बी टी वाई  के राष्ट्रीय अध्यक्ष, चेंबूर सभा  के अध्यक्ष, मंत्री, टीवाईपी के अध्यक्ष, महिला मंडल की संयोजिका, जॉन की संयोजिका, ज्ञानशाला के संयोजक – सहसंयोजक महिला मंडल की भूतपूर्व संयोजिका अंजू जी कोठारी, मुंबई महिला मंडल की कार्यसमिति सदस्य कल्पना जी परमार की रही। सभी अभिभावको ने अपनी जागरूकता दिखाते हुए संपर्क पखवाड़े मैं अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। किरण जी,  उषा जी, लता जी, प्रमिला जी, कविता जी, खुशबु जी, सपना जी, सारिका जी, तारा जी, लीना जी सभी प्रशिक्षक बहनों को सराहनीय योगदान रहा। कार्यक्रम का कुशल संचालन शर्मिला जी बड़ाला व सभी का आभार ज्ञापन वनीता जी चंडालिया ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here