‘कोरोना प्रभावित अधिकारी-कर्मचारियों की जानकारी दे बीएमसी, यह विभाग की प्रमुख जिम्मेदारी’

0
22

मुंबई। महानगरपालिका प्रशासन में कोरोना प्रभावित अधिकारी तथा कर्मचारियों के आंकड़े मुंबई महानगरपालिका सार्वजनिक करे, ऐसी मांग आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने की थी। अनिल गलगली के मांग पर बृहन्मुंबई महानगरपालिका द्वारा परिपत्रक जारी कर दिया है। अब बीएमसी के कोरोना प्रभावित अधिकारियों और कर्मचारियों को जानकारी प्रदान करना विभाग प्रमुख की जिम्मेदारी है।
20 मई, 2020 को जारी एक परिपत्रक में, मिलिन सावंत, संयुक्त आयुक्त, सामान्य प्रशासन विभाग और मुख्य श्रम अधिकारी सहदेव मोहिते ने स्पष्ट किया कि बीएमसी मुंबई और इसके उपनगरों में आवश्यक सेवाओं का वहन करती है। वर्तमान में ग्रेटर मुंबई क्षेत्र में कोरोना के साथ अधिक से अधिक रोगियों का निदान किया जा रहा है और उनके इलाज के लिए काम चल रहा है। इसलिए विभाग और अस्पताल स्तर पर यह देखा जा रहा है कि कोरोना के कारण बीएमसी कर्मचारी संक्रमित हो रहे हैं/मर रहे हैं। ऐसे अधिकारियों, कर्मचारियों और श्रमिकों की जानकारी संबंधित विभाग प्रमुख द्वारा तुरंत प्रस्तुत की जानी चाहिए।
दिनांक 16 मई को अनिल गलगली ने मांग की थी कि सभी अन्य विभागों की जानकारी सार्वजनिक हो रही है, लेकिन मुंबई महानगरपालिका प्रशासन के आकड़ेवारी छुपाए जा रहे हैं। गलगली की मांग है कि यह सबसे पहले सार्वजनिक किया जाए कि महानगरपालिका अधिकारी तथा कर्मचारी  अस्पताल सहित कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं, कितने लोगों की जांच हो गई हैं, कितने लोगों को विलगीकरण और अलगीकरण कक्ष में रखा जाए। सूचना और आंकड़े न होने से सभी अधिकारियों में डर का माहौल है। अनिल गलगली ने सभी विभाग प्रमुखों से अपील की है कि यदि जानकारी को दैनिक रूप से अपडेट किया जाता है, तो बीएमसी के लिए संयुक्त आंकड़ों को सार्वजनिक करना संभव होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here