लॉकडाउन मे भी नहीं मान रहे लोग, बन रहे हैं खतरा

1
107

राजकुमार गौतम/बस्ती। जहां देश में एक तरफ अफरा-तफरी का माहौल बना हुआ है वहीं कुछ लोग धर्मांधता के चलते अपने कृतियों से बाज नहीं आ रहे हैं स्वयं तो अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं, साथ ही साथ दूसरों के जान की बाजी लगा रहे है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी राम नवमी के अवसर पर एकत्र न होने एवं सभी शुभ कार्यों के अनुष्ठानों को स्थगित करने का आदेश जारी कर दिया, यहां तक कि कई जगहों से वीडियो आ रहे हैं कि लोकहित के चलते मृत्यु भोज पर भी प्रशासन के द्वारा प्रतिबंध लगा दिया गया। जिससे भीड़ एकत्र ना हो, इसके इतर प्रधानमंत्री के लाक डाउन आदेश को ताक पर रखते हुए मंदिरों एवं अन्य धार्मिक स्थलों पर एकत्र होकर पूजा-पाठ व प्रसाद वितरण का कार्य जोरों पर चल रहा है।
बताते चलें कि प्रधानमंत्री के आवाहन पर 25 मार्च से ही लाक डाउन का प्रारंभ हो गया इसके चलते 5 लोग एकत्र नहीं हो सकते सोशल डिस्टेंस के मद्देनजर रखते हुए कम से कम व्यक्ति से व्यक्ति की दूरी 1 मीटर होनी चाहिए, इसका पालन स्वयं प्रधानमंत्री जी भी कर रहे हैं परंतु धरातल पर इसके विपरीत परिणाम देखने को मिल रहे हैं। जगह-जगह पर लोग एकत्र हो कर पूजा-पाठ कर रहे हैं एवं प्रसाद वितरण भी हो रहा हैं शायद अभी भी लोग कोरोना वायरस की गंभीरता को नहीं समझ रहे हैं या समझना नहीं चाहते अगर स्थिति यही रही तो परिणाम भयावह हो सकते हैं।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)