देश में कोरोना वायरस के 1083 पॉजिटिव मामले, अब तक 30 की मौत

0
79

नई दिल्ली: देश में कोरोना संक्रमण के कुल 1083 मामले सामने आ चुके हैं। ये आंकड़ा covid19india.org वेबसाइट के अनुसार है। सरकार के आंकड़ों में अभी संक्रमितों की संख्या 979 ही है। इनमें से 86 ठीक हो गए हैं, जबकि 30 लोगों की मौत हो चुकी है। संक्रमण रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन के बीच दिहाड़ी मजदूर और ऐसे ही कामगार हजारों की तादाद में मुंबई, जयपुर, सूरत जैसी जगहों से अपने-अपने राज्यों की ओर जा रहे हैं। हालात को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि ऐसे मजदूरों का मूवमेंट रोका जाए। इन लोगों को सीमाओं पर ही 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन किया जाए और राज्य अपनी तरफ से इन लोगों के खाने-पीने का इंतजाम करें। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने निवास पर हुई मंत्री समूह की बैठक में लॉकडाउन के दौरान सफर करने वाले प्रवासियों को रहने के लिए अस्थाई आवास देने का फैसला किया गया। खाना, दवाइयां और ऊर्जा उत्पाद जैसी जरूरी चीजों की सप्लाई को चालू रखने का भी फैसला हुआ। लॉकडाउन को सख्ती से लागू कराने की जिम्मेदारी जिलों को डीएम और एसएसपी को दी गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से लव अग्रवाल ने कहा- बीते 24 घंटे में 6 मौतें हुई। देश में अब तक 25 लोगों की कोरोना से जान गई है। हम विदेशों से भी मास्क और वेंटिलेटर की सप्लाई ले रहे हैं। इसके अलावा अस्पतालों में हेल्थ फैसिलिटी को अपग्रेड किया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने आयुष मंत्रालय के अधिकारियों के साथ चर्चा कर टेलीमेडिसिन को बढ़ावा देने पर बल दिया है। कोरोना के खिलाफ पूरे देश में युद्ध स्तर पर काम हो रहा है। रेलवे खाने-पीने और जरूरी चीजों की आपूर्ति के लिए काम कर रहा है। इस बीच, सरकार ने कंपनियों से कहा है कि वे अपने वर्कर्स की सैलरी ना काटें और वक्त पर उन्हें पैसा दें। राज्यों की पुलिस को निर्देश दिए गए हैं कि किसी भी किराएदार से मकान मालिक एक महीने तक किराया ना मांगे, ताकि वे वहीं बने रहें।

मौजूदा हालात पर सरकार ने क्या कहा:

केजरीवाल ने कहा- अपने परिवार के बारे में सोचिए

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा- कल मैंने फोटोज देखी, जिनमें हजारों लोग इकट्ठा हो रहे थे। जब आप भीड़ में खड़े होते हैं, अगर वहां एक भी व्यक्ति कोरोना संक्रमित है तो आप भी संक्रमित हो जाएंगे। अपनी जिंदगी, अपने परिवार के बारे में सोचिए। यदि आपने सेहत बनाई है तो यह वो समय है, जब आप उसका इस्तेमाल करें। आप जहां भी हैं, वहीं रुकिए. हम आपका किराया चुकाएंगे।

स्वास्थ्य मंत्रालय: मरने वालों को दूसरी बीमारियां भी थीं

अग्रवाल ने कहा- सरकार ने लॉकडाउन के दौरान हाईवे और शहर के अंदर लोगों की आवाजाही रोकने के लिए सख्त निर्देश दिए हैं। कोरोना मरीजों की मौत और उनकी बीमारियों पर अग्रवाल ने कहा कि मरने वाले कुछ लोगों को पहले से डायबिटीज, किडनी और ब्लडप्रेशर से जुड़ी समस्याएं थीं।

गृह मंत्रालय: चूक होने पर डीएम-एसएसपी जिम्मेदार

लॉकडाउन के दौरान लोगों की आवाजाही को लेकर गृह मंत्रालय ने कहा- हम लॉकडाउन को सख्ती से लागू कराने के लिए 24 घंटे निगरानी कर रहे हैं। मंत्रालय ने सभी राज्यों को निर्देश दिए हैं कि किसी भी राज्य की बॉर्डर या हाईवे पर लोगों की आवाजाही न हो। अगर आदेश के क्रियान्वयन में चूक हुई, तो उसके लिए जिले के डीएम और एसएसपी जिम्मेदार होंगे। राज्यों से कहा गया है कि राज्य आपदा कोष से बॉर्डर पर ही मजदूरों के लिए खाने-पीने और 14 दिन के क्वारैंटाइन का इंतजाम किया जाए।

आईसीएमआर: लॉकडाउन से गंभीर स्थिति टल सकती है

आईसीएमआर ने कहा- देशभर में 113 लैब में कोरोना की टेस्टिंग हो रही है। 47 प्राइवेट लैब को भी जांच की मंजूरी दी गई है। ओडिशा में वर्ल्ड क्लास टेस्टिंग मशीन भी कुछ दिन में मिल जाएगी। संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। पीक सिचुएशन अभी आना बाकी है। अगर लॉकडाउन का पूरी तरह पालन करेंगे, तो शायद ज्यादा गंभीर स्थिति से बच जाएं।

राज्यों के हाल

  • तमिलनाडु; कुल संक्रमित- 50: स्वास्थ्य मंत्री डॉ सी. विजयभास्कर ने बताया- इरोड से कोरोना के 8 नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। ये सभी आईआरटी पेरुंदुरई में इलाज करा रहे थाई नागरिकों के संपर्क में आए थे। उनके संपर्कों के ट्रेसिंग के जरिए इन मरीजों की पहचान की गई। सभी रोगियों को उपचार के लिए अलग रखा गया है।
  • कर्नाटक; कुल संक्रमित- 83: स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि राज्य में कल शाम 5 से आज 2 बजे तक 7 नए मामलों की पुष्टि हुई। राज्य में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 83 हो गई है। इनमें से 5 ठीक हो गए हैं और उन्हें छुट्टी दे दी गई है। 3 मरीजों की मौत हुई है।
  • केरल; कुल संक्रमित- 202: केरल में 20 नए मामले सामने आए। इनमें से 18 ने विदेश यात्रा की थी, जबकि 2 लोग संक्रमितों के संपर्क में आए थे। केरल के स्वास्थ्य मंत्री के मुताबिक, अब राज्य में कोरोना के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 202 हो गई है। इनमें से 181 एक्टिव केस हैं। इलाज के बाद 4 लोगों में संक्रमण निगेटिव हो गया है।
  • महाराष्ट्र; कुल संक्रमित- 193: राज्य में आज 7 मामले सामने आए। यहां सबसे ज्यादा 71 संक्रमित मुंबई में हैं। इसके बाद पुणे में 29, सांगली में 25 और नागपुर में 10 मरीज हैं। पिंपरी-चिंचवड़ के नगरीय निकाय आयुक्त श्रवण हार्डिकर का कहना है कि पुणे में 5 मरीजों की लगातार दो रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। उनकी रविवार को अस्पताल से छुट्‌टी कर दी गई। महाराष्ट्र में शनिवार को 30 नए मामले सामने आए थे।
  • मध्यप्रदेश; कुल संक्रमित- 39: राज्य में रविवार को कोई नया मामला सामने नहीं आया। हालांकि, शनिवार रात 5 नए मामले सामने आए। 4 मरीज इंदौर में और एक उज्जैन में मिला। इंदौर में संक्रमित मिले चारों मरीज पुरुष हैं और उनकी उम्र 48 साल, 40 साल, 38 साल और 21 साल है। वहीं, उज्जैन में 17 साल की लड़की की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें से कोई भी हाल के दिनों में विदेश यात्रा पर नहीं गया था। अब इंदौर में सबसे ज्यादा 20 पॉजिटिव हैं। इसके बाद जबलपुर में 8, उज्जैन में 4, भोपाल में 3, शिवपुरी-ग्वालियर में 2-2 संक्रमित हैं। प्रदेश में अब तक 2 लोगों की मौत हुई है।
  • राजस्थान; कुल संक्रमित- 56: राज्य में रविवार को संक्रमण के 2 मामले सामने आए। भीलवाड़ा में 53 साल की महिला और झुंझुनूं में 21 साल का युवक पॉजिटिव पाया गया। युवक 18 मार्च को फिलीपींस से लौटा था। 26 मार्च को उसे बीमारी के लक्षण दिखाई दिए। राज्य में भीलवाड़ा में सबसे ज्यादा 21 कोरोना संक्रमित हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)