कोरोना वायरस से विश्व शांति के लिए मुलुंड में जप का महायज्ञ

0
234

मुम्बई। महातपस्वी आचार्य श्री महाश्रमण जी की सुशिष्या शासन्नी साध्वी कैलाशवती जी के सान्निध्य में मुलुंड में श्रद्धालु भाई-बहनो ने लगभग 9:15 से एक घंटे का जप किया गया, जिसमें मुलुंड सभा के अध्यक्ष राकेश टुकलीया, मंत्री दीपक सिंघवी भी उपस्थिति रहे। कोरोना वाइरस की शांति के लिए गुरु महाश्रमण जी द्वारा दिया गया जप:
चेइताभारहं वासं, चक्कवट्टी महिड्ढिओ।
संती संतीकरे लोए, पत्तो गइमणुत्तरं।।
बहुत ही मधुर, बड़ी ही तन्मयता से साध्वी पंकज श्री जी ने लयबद्ध एकस्वर में जप की धुनी रमाई। साध्वी श्री जी ने कहाँ यह मंत्र विश्व के रोग को उपसमन करने की अदभुद क्षमता रखता है। जो व्यक्ति इस मंत्र का जाप करता है वह प्रत्येक रोग से मुक्त हो जाता है। शारीरिक, मानसिक, भावनात्मक रोगों की औषध है। हमारे यह मुनियों की आर्षवाणी जो शरण त्राण देती है। यह जप अर्जुनजी चौधरी, निवर्तमान अध्यक्ष श्री तुलसी महाप्रज्ञ फ़ाउंडेशन के निवास स्थान पर किया गया।
साध्वी शारदाप्रभा जी ने जप सूत्र का अर्थ बताते हुए कहा, शांति प्राप्त करने लिए , हमें भगवान शांतिनाथ का जाप करना चाहिए चाहिए। साध्वी सम्यक्त यशाजी एवं साध्वी ललिताश्री जी जप में सहयोग किया। तेयूप अध्यक्ष रवि पटवारी भी उपस्थित रहे। शासन श्री कैलाशवती जी ने शांति पाठ सुनाया।
इसके अलावा, उत्तम लोढ़ा, प्रकाश गेलडा, अर्जुन चौधरी, संपत पटवारी, महेंद्र गेलडा, भगवतीलाल चंडालिया, प्रदीप छाज़ेड, मुकेश चौधरी, हस्तीमल सोनी, विनोद छाजेड़, संजय बोहरा आदि भाई-बहन उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here