आर्थिक मंदी के बाद भी भारत में हर महीने बने 3 नए अरबपति, मुकेश अंबानी सबसे अमीर भारतीय

0
44

मुंबई:देश दुनिया में जारी आर्थिक नरमी के बीच वर्ष 2019 में भारत में हर महीने तीन नए अरबपति बने और इन्हें मिलाकर अरबपतियों की कुल संख्या 138 तक पहुंच गई जो चीन और अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा है। रिलायंस समूह के प्रमुख मुकेश अंबानी देश के सबसे अमीर व्यक्ति हैं। उनकी कुल नेटवर्थ 67 अरब डॉलर है। जबकि वह विश्व के शीर्ष 10 अमीर व्यक्तियों में नौंवे स्थान पर है।

इस सूची में यदि भारत से बाहर रह रहे भारतीय मूल के अरबपतियों को भी जोड़ दिया जाए तो यह संख्या 170 तक पहुंच जाएगी। ‘हुरुन ग्लोबल रिच लिस्ट-2020’ के अनुसार 799 अरबपतियों की संख्या के साथ चीन सूची में पहले स्थान पर और 626 अरबपतियों के साथ अमेरिका दूसरे स्थान पर है। एक अरब डॉलर से अधिक नेटवर्थ वाले व्यक्तियों की गणना के आधार पर यह सूची बनाई गई है। इसके हिसाब से दुनिया में कुल 2,817 अरबपति हैं।

अमेजन डॉट कॉम के जेफ बेजोस दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बने हुए हैं। उनकी नेटवर्थ 140 अरब डॉलर है। इसके बाद 107 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ एलएमवीएच के बर्नार्ड ऑरनॉल्ट दूसरे और 106 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ माइक्रोसॉफ्ट के बिल गेट्स तीसरे स्थान पर हैं। इस साल सूची में 480 अरबपति जुड़े हैं।

देश में सबसे अधिक 50 अरबपति मुंबई में, 30 अरबपति दिल्ली में, 17 अरबपति बेंगलुरु में और 12 अरबपति अहमदाबाद में हैं। देश में 27 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ एस. पी. हिंदुजा परिवार दूसरे स्थान पर और 17 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ गौतम अडाणी तीसरे स्थान पर हैं। कोटक बैंक के उदय कोटक की कुल नेटवर्थ 15 अरब डॉलर है और वह सूची में छठे स्थान पर हैं। जबकि वह दुनिया में खुद के बलबूते बनने वाले सबसे अमीर बैंकर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)