जसप्रीत बुमराह के बचाव में उतरे आशीष नेहरा, जानिए क्या कुछ कहा

0
16

नई दिल्ली:टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा का मानना है कि भारतीय क्रिकेट टीम तेज गेंदबाजी आक्रमण को लेकर जसप्रीत बुमराह पर जरूरत से ज्यादा निर्भर हो चुकी है। नेहरा का मानना है कि हर मैच में बुमराह से जबर्दस्त प्रदर्शन की उम्मीद करने की आदत को छोड़ना चाहिए। पिछले साल सितंबर में स्ट्रेस फ्रैक्चर के बाद बुमराह क्रिकेट मैदान से दूर हो गए थे। इस साल उन्होंने जनवरी में श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी की। इस वापसी के बाद से बुमराह पहले जैसी लय में नजर नहीं आए हैं। बुमराह ने टी20 इंटरनेशनल और वनडे इंटरनेशनल मिलाकर कुल 14 मैच खेले हैं, जिसमें वो महज 9 विकेट ले सके हैं।

वनडे इंटरनेशनल में उनकी फॉर्म ज्यादा बड़ी चिंता है। पिछले छह वनडे इंटरनेशनल मैचों में बुमराह महज एक विकेट ले पाए हैं। न्यूजीलैंड के खिलाफ हाल में तीन मैचों की वनडे सीरीज में वो एक भी विकेट नहीं ले सके। नेहरा खुद भी अपने करियर में चोटों से जूझते रहे हैं। उन्होंने कहा कि तेज गेंदबाज के लिए इंजरी से वापसी करने के बाद वापस लय में आना आसान नहीं होता है। टाइम्स ऑफ इंडिया ने नेहरा के हवाले से लिखा, ‘आप बुमराह से हर सीरीज में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। यह याद रखना होगा कि वो चोट से वापसी कर रहे हैं। किसी के लिए भी हमेशा अपना बेस्ट देना मुमकिन नहीं होता है। विराट कोहली भी कुछ सीरीज में फेल होते हैं।’

‘डेथ ओवर में लेंथ बॉल फेंकना क्राइम नहीं’

नेहरा ने कहा, ‘डेथ ओवर में लेंथ बॉल फेंकना कोई क्राइम नहीं है। लगातार यॉर्कर गेंद फेंकना आसान नहीं होता है। अगर आपकी गेंदबाजी में तेजी है तो आप अपनी लेंथ और गति में मिश्रण से बल्लेबाज को छका सकते हैं।’ बे ओवल में खेले गए टी20 इंटरनेशनल मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ बुमराह ने 12 रन देकर तीन विकेट लिए थे। नेहरा ने कहा, ‘प्लेइंग इलेवन को लेकर टीम मैनेजमेंट बेहतर काम कर सकता है। बुमराह और शमी के अलावा बाकी तेज गेंदबाजों को अपना रोल समझ में आना चाहिए। सभी को बुमराह और शमी की आदत हो गई है। बुमराह के ऊपर बहुत ज्यादा दबाव है।’

‘टेस्ट क्रिकेट में सैनी को देना चाहिए मौका’

टेस्ट क्रिकेट को लेकर नेहरा ने कहा कि इस फॉरमैट में मोहम्मद शमी बेस्ट तेज गेंदबाज हैं। इसके अलावा नेहरा का मानना है कि नवदीप सैनी को टेस्ट क्रिकेट में खेलने का मौका मिलना चाहिए। सैनी भारत के लिए 15 लिमिटेड ओवर मैच खेल चुके हैं और इस दौरान वो 18 विकेट ले चुके हैं। सैनी ने अपनी तेजी से काफी प्रभावित किया है। नेहरा का मानना है कि यह सही समय होगा सैनी को टेस्ट कैप देने का। उन्होंने कहा, ‘शमी इस समय टेस्ट क्रिकेट में भारत के बेस्ट गेंदबाज हैं। वो अपनी गेंदबाजी को लेकर कंडीशन और पिच पर निर्भर नहीं रहते हैं। मौजूदा समय में सैनी टेस्ट क्रिकेट के लिए उमेश यादव से बेहतर तैयार तेज गेंदबाज हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)