दिल्ली के नतीजोें की 11 रोचक बातें

0
59

विधानसभा की 70 सीटों पर वोटों की गिनती मंगलवार सुबह 8 बजे शुरू हुई थी। लगातार 14 घंटे 5 मिनट तक चली गिनती के बाद चुनाव आयोग ने 10 बजकर 5 मिनट पर सभी 70 सीटों के नतीजे घोषित कर दिए। आखिरी नतीजा तिमारपुर सीट का था, जो 10 बजकर 5 मिनट पर आया। यहां से आप के दिलीप पांडे जीते। आप ने 62 और भाजपा ने 8 सीटें जीतीं। इन नतीजों से जुड़ी सबसे रोचक और अहम बातें…

1) सबसे बड़ी जीत, सबसे छोटी जीत

  • सबसे बड़ी जीत बुराड़ी से आप उम्मीदवार संजीव झा को मिली। उन्होंने जदयू के शैलेंद्र कुमार को 88 हजार 158 वोटों के अंतर से हराया। संजीव को 1 लाख 39 हजार 598 वोट मिले। झा की जीत का अंतर दिल्ली चुनाव के 27 साल के इतिहास में रिकॉर्ड है। इससे पहले 2015 में विकासपुरी से आप के ही महेंद्र यादव रिकॉर्ड 77 हजार 655 वोटों से जीते थे।
  • सबसे छोटी जीत बिजवासन से आप उम्मीदवार भूपिंदर सिंह को मिली, जिन्होंने भाजपा के सत प्रकाश राणा से महज 753 वोटों के अंतर से जीत हासिल की।

2) 50 हजार से ज्यादा के अंतर से जीतने वाले 4 उम्मीदवार

अंतर उम्मीदवार जीते
50 हजार से ज्यादा 4
25 हजार से 50 हजार के बीच 18
10 हजार से 25 हजार के बीच 33
5 हजार से 10 हजार के बीच 6
5 हजार से कम 9

3) कांग्रेस के 66 में से 63 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई। गांधी नगर से अरविंदर सिंह लवली, बादली से देवेंद्र यादव और कस्तूरबा नगर से अभिषेक दत्त ही अपनी जमानत बचा पाए। आप और भाजपा के किसी भी उम्मीदवार की जमानत जब्त नहीं हुई।

4) 2015 में जीते 45 विधायक इस बार भी चुने गए। इनमें दो भाजपा और 43 आप से हैं।

5) इस बार 8 महिलाएं चुनी गईं, पिछली बार से दो ज्यादा। मुस्लिम भी 5 चुने गए। पिछली बार 4 मुस्लिम उम्मीदवार चुनाव जीते थे।

6) मटियामहल से जीते आप उम्मीदवार शोएब इकबाल छठवीं बार विधायक बने, जो दिल्ली चुनाव के इतिहास में रिकॉर्ड है।

7) भाजपा ने पिछली बार जीते तीनों विधायकों को टिकट दिया था, उनमें से दो जीते। मुस्तफाबाद से जगदीश प्रधान हार गए। आप ने 45 विधायकों को टिकट दिया था, उनमें से सिर्फ दो, सरिता सिंह (रोहतास नगर) और नितिन त्यागी (लक्ष्मी नगर) हारे।

8) मुंडका से जीते आप उम्मीदवार धर्मपाल लाकड़ा सबसे अमीर हैं। उनके पास 292.12 करोड़ रुपए की संपत्ति है। वहीं, मंगोलपुरी से जीतीं आप उम्मीदवार राखी बिड़लां के पास सिर्फ 76 हजार 421 रुपए की संपत्ति है।

9) कोंडली से जीते 30 साल के कुलदीप कुमार सबसे युवा विधायक। शाहदरा से जीते 72 साल के राम निवास गोयल सबसे उम्रदराज हैं। गोयल पिछली विधानसभा के अध्यक्ष रहे हैं।

10) उत्तम नगर से जीते नरेश बाल्यान और सीलमपुर से जीते अब्दुल रहमान सबसे कम पढ़े-लिखे विधायक होंगे। दोनों सिर्फ आठवीं पास हैं। सबसे ज्यादा पढ़े-लिखे विधायक पोस्ट ग्रेजुएट हैं। इनकी संख्या 18 है।

11) नए विधायकों में 43 पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। इनमें से 5 भाजपा और 38 आप के। सबसे ज्यादा 13 मामले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)