2020 का राशिफल : मेष से मीन तक, हर राशि के लिए कुछ-ना-कुछ खास लेकर आ रहा है नया साल

0
1904

कुछ घंटों बाद साल 2020 शुरू हो जाएगा। आर्ट ऑफ लिविंग समूह के वैदिक धर्म संस्थान के एस्ट्रोलॉजर आशुतोष चावला ने अपने आध्यात्मिक विश्लेषण के जरिए 12 राशियों के लिए 2020 कैसा रहेगा, ये बताता है। किन राशियों को ग्रहों की चाल से नए साल में फायदा हो सकता है, किन लोगों को इस साल सावधानियां बरतनी पड़ सकती हैं, क्या आध्यात्मिक उपाय करने चाहिए, जानिए एस्ट्रोलॉजर आशुतोष चावला से।

  • मेष 

मेष राशि वालों के लिए यह साल शुभ रहने वाला है। धर्म की वृद्धि होगी, तीर्थ यात्रा करेंगे, गुरु का सान्निध्य मिल सकता है। पदोन्नति हो सकती है। अगर आप लंबे समय से अपनी तरक्की के इंतजार में हैं, तो यह साल उचित सिद्ध होगा। कुछ नई शुरुआत करने के लिए भी यह साल बहुत उपयुक्त है। अगर आप किसी भी तरह के डिजिटल मीडिया से जुड़े हुए हैं – इंटरनेट, वेबसाइट, सोशल मीडिया पर, तो इस साल आपके सोशल मीडिया समुदाय को बढ़ाने के लिए भी बहुत अच्छा रहेगा।
उपाय – हर रोज अपने गुरु द्वारा दिए गया मंत्र या फिर गुरु-मंत्र – ‘ गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णु र्गुरुर्देवो महेश्वरः, गुरु साक्षात परब्रह्मा तस्मै श्रीगुरवे नमः ‘   या ‘ॐ श्री गुरुवे  नमः’  का जाप कर सकतें हैं।

  • वृषभ

वृषभ राशि वालों को थोड़ा ध्यान रखना पड़ेगा। इस साल पारिवारिक समस्याएं आ सकती हैं। आर्थिक धन या संपत्ति के किसी विवाद में अगर आप जुड़े हैं, तो थोड़ा सावधानी रखने की आवश्यकता है। पैतृक संपत्ति भी मिलने के संयोग हैं। इस साल आध्यात्म में और सेवा में लगना शुभ रहेगा। गुरु सेवा, समाज सेवा करें। इससे आध्यात्मिक उन्नति के द्वार खुल सकते हैं। कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेने के लिए इस साल मुश्किल हो सकती है। निर्णय लेते समय परिवार के किसी समझदार व्यक्ति से, किसी ज्ञानीजन से परामर्श  करके ही निर्णय लें।
उपाय – मौन का पालन करें , ध्यान करें तथा अपने खाने-पीने पर विशेष ध्यान दें।

  • मिथुन 

मिथुन राशि वाले इस साल कोई भी निर्णय लेने से पहले घर के बुजुर्गों से राय लें। पिछले कुछ सालों के जैसे यह साल भी शंकाओं से भरा रह सकता है। महत्वपूर्ण निर्णय अक्तूबर के बाद लेने से अधिक फल दायक रहेगा। आय में वृद्धि होने की सम्भावना है। परिवार और संतान को लेकर चिंताएं रह सकतीं  हैं। स्वास्थ्य बेहतर होगा, आमदनी बढ़ेगी।  कुछ नया शुरू करने के लिए बहुत अच्छा समय है।  कार्यक्षेत्र में जिम्मेदारियां भी बढ़ेंगीं। अपने पारिवारिक जीवन पर, बच्चों पर ध्यान देने की आवश्यकता है। छात्रों को ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी, क्योंकि मेहनत के अनुपात में परीक्षा परिणाम नहीं आएगा। विवाहित लोगों को अपने परिवार एवं बच्चों के स्वास्थ्य पर ध्यान देना होगा।
उपाय – हर रोज  भगवान् विष्णु के नाम का जाप करें।  सोने से पहले विष्णु  सहस्त्रनाम सुनना अत्यंत लाभदायक रहेगा।

  • कर्क 

कर्क राशि वालों के लिए बहुत अच्छा समय है। धन उपार्जन होगा, बैंक बैलेंस बढ़ेगा, जिम्मेदारियां भी बढ़ेंगी। आपको आपके कार्यस्थल पर बहुत आदर मिलेगा , मान-सम्मान मिलेगा। अपने वरिष्ठ अधिकारी के व्यवहार से, सहयोगियों के वजह से या कार्यालय की स्थिति के कारण आप अपना कार्यस्थल बदलना चाह सकतें हैं, लेकिन यह उत्तम समय नहीं होगा। अपना कार्य क्षेत्र बदलने के लिए थोड़ा इंतजार करें। साल के अंत (नवंबर) तक ये सारी समस्याएं ठीक हो जाएंगी। अपने स्वास्थ्य के प्रति ध्यान देने की आवश्यकता है। अगर अविवाहित हैं और विवाह के लिए साथी की खोज में हैं, तो इस साल शादी की पूर्ण  संभावना है। अपने परिश्रम पर ही भरोसा रखें, भाग्य के ऊपर निर्भर न हों। आपको आपकी माता की चिंता रह सकती है।
उपाय – इस साल में हर रोज सूर्यास्त के समय ‘ ॐ नमः शिवाय ‘ का जाप करें  या ‘ श्री रुद्रम ‘ पाठ को सुनें।

  • सिंह 

सिंह राशि वालों के लिए यह साल अत्यंत भाग्यशाली रहेगा। नौकरी बहुत मजबूत होगी, शत्रु परास्त होंगे। अगर कोई अदालत के मामले में उलझे हैं तो यह साल समाधान करने के लिए उपयुक्त है। विवाहित युगल के लिए संतान उत्पत्ति और परिवार नियोजन अनुकूल रहेगा। स्वास्थ्य में सुधार होगा। खर्चे थोड़े बढ़ेंगे। शत्रु सिर उठाएंगे, लेकिन उन्हें परास्त करने में आप सक्षम रहेंगे।
उपाय – भगवान् गणपति के मंदिर में जाके उनको दूर्वा चढ़ाना या मोदक से उनका पूजन करना आपके लिए अति-उत्तम रहेगा।  इससे आपके पुण्यों में वृद्धि होगी और आपका हर काम आसानी से बनता चला जाएगा।

  • कन्या 

कन्या राशि वालों के लिए यह  साल थोड़ी सी मुश्किलें ला सकता है। स्थान परिवर्तन हो सकता है, व्यवसाय, काम बदलने का सोच सकते हैं, वैवाहिक जीवन में मुश्किलें आने की संभावना है। ध्यान रखें, किसी भी विवाद में न पड़ें। अपने माता की स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दें। आय में वृद्धि होगी। कार्य क्षेत्र में आपकी प्रतिष्ठा बढ़ेगी।
उपाय – भगवान् कृष्ण के मन्त्रों का जाप करना आपके लिए शुभ  रहेगा।  ‘ॐ नमः भगवते वासुदेवाय ‘ या ‘ॐ नमो नारायणाय ‘ की एक माला दिन में तीन बार अवश्य करें।

  • तुला 

तुला राशि वालों के लिए ये साल मिश्रित फल लाने वाला रहेगा।  लम्बी यात्राओं के अवसर प्राप्त होंगे, विदेश यात्रा का मौका  मिल सकता है।  अपने छोटे भाई-बहनों के साथ मन-मुटाव हो सकता है। कोशिश करें कि इस साल अपने रिश्तों को बेहतर बनाएं। वाहन या संपत्ति में निवेश करें, ये आपके लिए फायदेमंद सिद्ध होगा। व्यवसाय या कार्यक्षेत्र में समस्याएं बढ़ सकतीं हैं। काम का दबाव ज्यादा होगा, जिम्मेदारियां बढ़ेंगी, स्वास्थ्य पर भी असर हो सकता है, चिंताएं बढ़ सकतीं हैं।
उपाय – माँ दुर्गा के मंदिर जाएं, उन्हें प्रणाम करें, दुर्गा माता के मंत्र करें।  हर रोज ‘दुर्गा सूक्तम ‘ जरूर सुनें तथा दस मिनट तक ‘ ॐ नमः शिवाय’ का जाप करें।

  • वृश्चिक 

वृश्चिक राशि वालों के लिए यह साल बहुत लाभदायक सिद्ध होगा। अपने परिवार के साथ आप अच्छा  समय बिताएंगे।  कुछ नया शुरू करने के लिए उत्तम समय है। कार्यस्थल पर जिम्मेदारियां बढ़ेंगी, कार्यस्थल बदलने का सोच सकतें  है, लेकिन यह समय कुछ भी परिवर्तन के लिए अति- उत्तम नहीं रहेगा। छोटी-छोटी यात्राएं फलदायक रहेंगी। वाहन चलते हुए आपको ख़ास सावधानी रखनी चाहिए। खर्चे बढ़ सकतें हैं, पेट खराब रह सकता है। स्थान परिवर्तन की संभावना है, हो सकता है कि आप अपना घर बदलें। विद्यार्थियों  के लिए इस साल अधिक मेहनत करने की आवश्यकता है। इस साल किसी भी तरह के पारिवारिक क्लेश में न पड़ें।
उपाय – गुरु मंत्र का जाप अच्छा  होगा, अपने गुरु का फोटो अपने पास अवश्य रखें।

  • धनु 

धनु राशि वालों के लिए यह साल पिछले साल से काफी बेहतर सिद्ध होगा। स्वास्थ्य बेहतर होगा, बिगड़े हुए काम बन जाएंगे। अगर आप अविवाहित हैं, तो इस साल विवाह होने की संभावना भी अधिक है। आय में वृद्धि होगी तथा भाग्य साथ देगा। पढ़ाई कर रहे हैं, कोई कंप्यूटर परीक्षा देने वाले हैं, तो सफलता मिलेगी। माता के स्वास्थ्य को लेकर चिंता रह सकती है। आपको अपनी वाणी पर थोड़ा ध्यान देना होगा। जो बोलें, बहुत सोच-समझकर बोलें। अपने खाने-पीने की आदतों पर भी विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है।
उपाय – गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ सुने, गणपति जी के मंदिर जाकर उन्हें दूर्वा अर्पण करें, दुर्गा सूक्त हर रोज सुने और ओम नमः शिवाय का जाप रोजाना  10 मिनट करें।

  • मकर 

मकर राशि वालों के लिए यह साल मिश्रित फल लेकर आने वाला है। आपको विदेश यात्रा करनी पड़ सकती है, जो सफल रहेगी। आपका स्वास्थ्य पहले से बेहतर होगा। अगर आप विवाहित हैं, तो आपके वैवाहिक जीवन में , आपके साथी  से मतभेद होने की संभावना है। किसी भी प्रकार के विवाद में ना पड़े। कार्यस्थल पर भी अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है। लोग आपको आपकी प्रतिभा से कम अंकित करें। शत्रु रहेंगे और आपके लिए मुश्किलें भी पैदा कर सकते हैं। जहां तक हो सके, विवादों को समझदारी से सुलझाने की कोशिश करें। आध्यात्मिक जीवन जीने वालों के लिए यह साल अति उत्तम रहने वाला है, जो कि आपके ध्यान, योग ,साधना में बहुत गहराई आएगी। जो लोग मोक्ष के लिए प्रयत्नशील हैं, उन्हें अपने अध्यात्मिक साधना में बहुत लाभ होगा। जहां तक हो सके कर्मयोगी बने, ज्ञान में रहे।
उपाय – भगवान कृष्ण का नाम स्मरण करना, मंत्र करना लाभदायक सिद्ध होगा।

  • कुंभ 

कुंभ राशि वालों  के लिए साल 2020 लाभदायक रहेगा। आय में वृद्धि होगी तथा स्वास्थ्य बेहतर होगा। अगर आप विद्यार्थी  हैं  और पढ़ाई के लिए विदेश जाना चाहते हैं, यह साल बहुत अच्छा रहेगा। आपको किसी भी विदेशी संस्थान (फॉरेन इंस्टिट्यूट) में आवेदन (अप्लाई) करने के लिए मौका मिलेगा।  अगर आप कुछ नया करने का सोच रहे हैं, तो यह साल बहुत लाभदायक रहेगा। आपके जीवन साथी के साथ संबंध बेहतर होंगे। फिर भी परिवार में कुछ- न-कुछ परेशानी आने की संभावना है, उस का विशेष ध्यान रखें। नौकरीपेशा लोगों के लिए जरूरी है कि अधिकारी वर्ग से नम्रता के साथ बात करें। हो सकता है, उनको आपकी कोई बात पसंद ना आए और इसकी वजह से आपको परेशानी हो।
उपाय – हर शनिवार को काले उड़द की दाल का दान करें या शनि मंदिर में जाकर तेल का दान करें।

  • मीन 

मीन राशि वालों के लिए यह साल मिश्रित फल देने वाला है।  आपको आपके स्वास्थ्य का ख्याल रखना पड़ेगा। वाहन चलाते वक्त भी विशेष ध्यान रखें क्योंकि कहीं कोई दुर्घटना हो सकती है। आपकी आय बढ़ेगी। अगर आप नौकरी कर रहे हैं, तो मिलने के पूर्ण योग हैं। कुछ लोगों के लिए इस साल अपनी नौकरी बदलने की संभावना है । परिवार में बहुत ही सुंदर और सौहार्दपूर्ण वातावरण रहेगा। अगर  आप अपनी माता की स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हैं, तो उनके स्वास्थ्य में सुधार आएगा।
उपाय – हर रोज हल्दी वाला गाय का दूध पिए और पीले वस्त्रों को धारण करें। रोजाना  10 मिनट ‘ओम नमः शिवाय’ का जाप करें।

Thanks:www.bhaskar.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)