जलगांव में मंगल भावना समारोह उत्साह से संपन्न, मंगल भावनाएं देने वालों की लगी होड़

0
77

जलगांव। चातुर्मास का समय आध्यात्मिक आरोहण का समय होता है ।सन 2019 का चातुर्मास हमने जलगांव शहर में किया आज वहां से मंगल प्रस्थान का समय उपस्थित हो गया है। चातुर्मास प्रवास में श्रावक समाज ने ज्ञान ,दर्शन आदि के क्षेत्र में अपने पुरुषार्थ का सम्यक नियोजन किया है। आचार्य महाप्रज्ञ जी के शताब्दी वर्ष के शुभारंभ से ले जैन विद्या परीक्षा की परिसंपन्नता तक के सभी कार्यक्रम हर्षोल्लास के साथ परिसंपन्न हुए। जनता ने संघ प्रभावना की दृष्टि से इस चातुर्मास को विशेष माना ।राजा प्रदेशी के आख्यान से प्रेरणा ले रमणीय हो आप  पुनः  अरमणीय न हो जाना । तेरापंथ सभा द्वारा आयोजित मंगल भावना समारोह में आचार्य श्री महाश्रमण जी की विदुषी शिष्या साध्वी श्री निर्वाण श्री जी ने  ये उद्धार व्यक्ति किए।
प्रबुद्ध साध्वी डॉ॰ योगक्षेमप्रभा जी ने कहा- चातुर्मास काल में समायोजित विशेष कार्यक्रमों एवं कार्यशालाओं में सभी संस्थाओं ने अपनी सक्रिय सहभागिता दिखाई देशव्रत एवं तप की आराधना में भी ज्ञानशाला से लेकर तेरापंथ सभा के सभी सदस्यों ने हमारी प्रेरणा स्वीकार की। महिला मंडल की सक्रियता तो देखती ही बनती थी नवगठित कन्या मंडल और किशोर मंडल की सदस्य ने भी  समय समय पर अपनी संघ प्रभावक प्रस्तुतियां दीं ।
साध्वी लावण्यप्रभाजी ,साध्वी कुंदनयशाजी,साध्वी  मुदितप्रभा जी मधुरप्रभा जी ने समवेत रुप मे भावपूर्ण  गीत का संगान किया। तेरापंथ सभा के अध्यक्ष माणकचंदजी बॆद  ,तेयुप अध्यक्ष राजेश धाडेवा  ,महिला मंडल अध्यक्षा निर्मला छाजेड़  टीपीएफ अध्यक्षा वर्षा चौरड़िया ने अपने भावपूर्ण उद्धार व्यक्त किए खानदेश सभा के अध्यक्ष अनिल जी सांखला ने चातुर्मास को ऐतिहासिक बताया। तपस्विनी बहन कंचन छाजेड़ के नेतृत्व में कन्या मंडल ने प्रासंगिक गीत का सुमधुर संगान  किया।
संतोष छाजेड , उमा सांखला, शशि सुराणा ,नम्रता सेठिया, माणकचंदजीचोरड़िया ,ठाकरमल जी सेठिया शुभकरण जी बॆद, प्रकाश जी कोठारी ,  वीणा ,हिमांशु एवं सानवी छाजेड़ ,सुश्री आकांक्षा राका नेहा लुणिया ,मानसी सामसुखा, सरला ललवाणी, मुस्कान डागा ,मास्टर आरव सेठिया ने अपने प्रस्तुति दी। सुनीता चोरडिया, शशि सुराणा, जया लोढा, हिमांशु पारस सेठिया ने अत्यंत भावपूर्ण गीतिका की प्रस्तुति दी। विराट रैली के साथ-साथ साध्वी श्री का अणुव्रत भवन से मंगल प्रस्थान हुआ । मंगल भावना समारोह का संचालन नीरज समदरिया ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here