पश्चिम रेलवे द्वारा प्रदर्शनी एवं धरोहर पुस्तकों के विमोचन के साथ विश्व धरोहर सप्ताह की शुरुआत

0
6

मुंबई। पश्चिम रेलवे द्वारा 19 नवम्बर, 2019 को चर्चगेट स्थित प्रधान कार्यालय भवन के परिसर में भारतीय पुरातत्त्व सर्वेक्षण (ASI) के सहयोग से आयोजित आकर्षक प्रदर्शनी तथा विभिन्न हेरिटेज पुस्तकों के विमोचन के साथ विश्व धरोहर सप्ताह का शुभारम्भ हुआ। विश्व धरोहर सप्ताह के अंतर्गत इन कार्यक्रमों में पश्चिम रेलवे द्वारा अपनी स्थापना के समय से रेलवे के गौरवशाली युग के विभिन्न पहलुओं के साथ-साथ अपनी समृद्ध विरासत को दर्शाया गया।
पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी रविंद्र भाकर द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार विश्व धरोहर सप्ताह मनाने का मुख्य उद्देश्य देश की सांस्कृतिक विरासत एवं स्मारकों के संरक्षण के बारे में लोगों में जागरूकता बढ़ाना एवं प्रोत्साहित करना है। प्राचीन भारतीय संस्कृति एवं परम्परा को जीवित रखने के लिए ऐतिहासिक स्मारकों और अमूल्य सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित रखना अत्यंत आवश्यक है। इसी उद्देश्य से पश्चिम रेलवे द्वारा इस वर्ष विभिन्न प्रकार की गतिविधियों के साथ विश्व धरोहर सप्ताह मनाने के लिए भारतीय पुरातत्त्व सर्वेक्षण से हाथ मिलाया गया। धरोहर सप्ताह का शुभारम्भ 19 नवम्बर, 2019 को पूर्वाह्न 10.30 बजे प्रधान कार्यालय भवन के लॉन में समारोह के मुख्य अतिथि पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री ए. के. गुप्ता द्वारा दो दिवसीय धरोहर प्रदर्शनी के उद्घाटन के साथ हुआ। इसके अंतर्गत विभिन्न प्रकार की अन्य गतिविधियाँ जैसे भारतीय पुरातत्त्व सर्वेक्षण द्वारा मुंबई क्षेत्र के धरोहर स्थलों पर प्रस्तुतीकरण तथा बांद्रा स्टेशन के हैरिटेज रिस्टोरेशन सम्बंधी प्रस्तुतीकरण प्रधान कार्यालय के गोडबोले हॉल में आयोजित एक कार्यक्रम में किया गया।
इस अवसर पर श्री गुप्ता ने भारतीय पुरातत्त्व सर्वेक्षण की विवरणिका के साथ-साथ ‘ट्रैवलिंग इन टाइम’ शीर्षक से पश्चिम रेलवे द्वारा प्रकाशित कॉफी टेबल बुक और ‘रेट्रोस्पेक्टिंग इन्टु अवर ग्रेट लीगेसी थ्रू मैगनिफिशेंट हैरिटेज’ शीर्षक से पश्चिम रेलवे के हैरिटेज कम्पेंडियम का विमोचन भी किया। उसके बाद भारतीय पुरातत्त्व सर्वेक्षण के कलाकारों द्वारा ‘खजुराहो के शिल्पी’ शीर्षक से एक विशेष नाटक का मंचन भी किया गया, जिसके अंतर्गत खजुराहो मंदिर के निर्माण सम्बंधी वृत्तांत को दिखाया गया। इस समारोह में पश्चिम रेलवे के अपर महाप्रबंधक श्री वी. के. त्रिपाठी, पश्चिम रेलवे धरोहर समिति के प्रमुख एवं प्रमुख मुख्य यांत्रिक इंजीनियर श्री अशेष अग्रवाल, प्रधान विभागाध्यक्ष और भारतीय पुरातत्त्व सर्वेक्षण  एवं पश्चिम रेलवे के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। इस अवसर पर स्वागत भाषण पश्चिम रेलवे के प्रमुख मुख्य वाणिज्य प्रबंधक श्री राजकुमार लाल द्वारा दिया गया, जबकि मुख्य व्याख्यान भारतीय पुरातत्त्व सर्वेक्षण की क्षेत्रीय निदेशक डॉ. नंदिनी भट्टाचार्या द्वारा दिया गया। धन्यवाद प्रस्ताव पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री रविंद्र भाकर द्वारा दिया गया। समारोह का मंच संचालन पश्चिम रेलवे के वरिष्ठ जनसम्पर्क अधिकारी श्री गजानन महतपुरकर द्वारा किया गया। धरोहर प्रदर्शनी 19 नवम्बर, 2019 को 10.30 बजे से 18.00 बजे तक जबकि 20 नवम्बर, 2019 को 10.00 बजे से 18.00 बजे तक जन सामान्य के अवलोकनार्थ खुली रहेगी। विश्व धरोहर सप्ताह प्रति वर्ष 19 से 25 नवम्बर तक पूरे विश्व में मनाया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)