कमलेश तिवारी हत्याकांडः अखिलेश बोले- भाजपा सरकार में कम कर दी गई थी सुरक्षा

0
12

रामपुर:हिन्दू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या के बहाने सपा मुखिया और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा। कहा कि सरकार ने कमलेश को सुरक्षा मुहैया कराई थी। इसे योगी सरकार ने हटा ली और आखिरकार उनकी हत्या हो गई। ये बात खुद कमलेश की मां कह रही हैं। उनके बयान से ही सरकार की सारी विफलता समझ में आ जाएगी। अखिलेश  ने कहा कि अब सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो गई  है। जनता भाजपा को जवाब देगी।

शनिवार को रामपुर में किले के मैदान में उप चुनाव की रैली को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार कमलेश की हत्या में भी नई कहानियां बना रही है। हत्या में पुलिस ने उनको पकड़ा है जिन्होंने 2015 में साजिश रची थी। अगर उस समय साजिश रची गई थी तो सरकार ने ढाई साल क्या किया। सच ये है कि असल हत्यारे पुलिस की पकड़ से दूर हैं।

अखिलेश ने कहा कि हम योगी को योगी नहीं मानते क्योंकि योगी का अर्थ होता है दूसरों का दु:ख समझने वाला जबकि मौजूदा सरकार लोगों का दुख नहीं समझ रही है। ढाई साल में कोई विकास नहीं हुआ है। यूपी सरकार अपने उप मुख्यमंत्री द्वारा जारी किए गए टेंडरों की जांच करा रही है। भले ही चुनाव में भाजपा के सबसे ज्यादा विधायक जीते हों, लेकिन आज तमाम भाजपा के विधायक सरकार के फैसलों पर सवाल उठा रहे हैं। दुखी जनता भी है और पुलिस व अफसर भी हैं। अखिलेश ने अपनी सरकार की उपलब्धियां भी गिनाई। कहा कि अफसरों से डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि जब सरकार बदलती है तो सबसे पहले अफसर ही बदलते हैं।

सभा  में नेता विरोधी दल राम गोविंद चौधरी, सपा सांसद आजम खां, मुरादाबाद सांसद डा.एसटी हसन, विधायक अब्दुल्ला आजम, विधायक नसीर खां और सपा प्रत्याशी डा.तजीन फातिमा भी मौजूद रहीं।

गूगल पर टोटी चोर डालो तो मेरा नाम आएगा

अखिलेश ने आजम खां पर लगातार हो रहे मुकदमों पर कहा कि आजम खां को तो केवल बकरी चोरी और किताब चोरी का आरोप लगा लेकिन हमें तो योगी सरकार ने टोटी चोर तक कह दिया। गूगल पर अगर टोटी चोर लिखेंगे तो हमारा ही नाम सामने आएगा। कहा कि हमारी सरकार आएगी तो कहीं न कहीं चिलम भी मिल जाएगी। सरकार सपा को कमजोर करने के लिए सपा सांसद आजम खां व उनके समर्थकों पर फर्जी मुकदमे कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)