मच गई धूम वसई में, ‘रिश्ता वही, सोच नई’

0
62

वसई। रिश्ता वही ,सोच नई यह कार्यक्रम वसई में तेरापंथ भवन में आयोजित किया।इस कार्यक्रम में 2015 से लेकर 2019 तक की 11 नववधुओं ने भाग लिया।कार्यक्रम की शुरुआत मंगलाचरण से हुई जिसे बहनों ने बहुत ही रचनात्मक तरीके से नृत्य द्वारा प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का कुशल संचालन संयोजिका अनिताजी बापना ने किआ ओर गेम्स से बहनों का मनोरंजन किआ।स्वागत भाषण में सह संयोजिका सुनिताजी सिंघवी ने सभी पदाधिकारियों का स्वागत ओर अभिनंदन किया।
नववधुओं ने बहुत ही सुंदर शैली में अपनी प्रस्तुती दी।जजेस के रूप मे करुणाजी कोठारी ओर दिव्याजी बाफना ने कुछ पारिवारिक, कुछ सामान्य ज्ञान के प्रश्न पूछे ओर नववधुओं नेअपने- अपने अंदाज में प्रश्नों के जवाब दिए।उनके हाव- भाव ओर उनकी शैली के अनुसार जजेस ने अपना निर्णय सुनाया।फेस ऑफ इवेंट पिंकी हिरन, बेस्ट इंट्रोडक्शन निकिता संचेती, बेस्ट कैट वाक डिम्पल कोठारी,बेस्ट सामान्य ज्ञान प्रिया गुंदेचा को दिया गया।
कन्यामण्डल , नववधुओं ने डांस प्रस्तुति दी।महिलामण्डल से बुजुर्ग महिलाओं ने विशेष आर्कषण के रूप में घुमर किआ।महिलामण्डल ने एक नाटक के माध्यम से बहनों का मनोरंजन किया।
सहसंयोजिका चंदाजी गोखरू ने प्रोग्राम को सफल बनाने के लिए सभी का आभार ज्ञापन किया।
विशेष अतिथि के रूप में मुम्बई महिलामण्डल सदस्या मंजूजी बाफना ओर अंजुजी छाजेड़ की गरिमामय उपस्थिती रही।वसई सभा के सभी पदाधिकारियों मोहनजी गुंदेचा, भगवतीलालजी चौहान,पूनमचन्दजी लोढा, प्रकाशजी संचेती,अशोकजी संचेती, गजेंद्रजी गुंदेचा, नीतिनजी संचेती, कमलेशजी लोढा, कन्यामण्डल की सराहनीय उपस्थिती रही। इस प्रोग्राम के प्रायोजक अनिताजी गणपतिजी बापना थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)