कनेक्शन विथ सक्सेस कार्यशाला का आयोजन

0
71

ठाणे। साध्वी श्री आणिमाश्रीजी एवं साध्वी श्री मंगलप्रज्ञाजी के सानिध्य में तेरापंथ भवन ठाणा में मुम्बई महिला मंडल के तत्वाधान में अ.भा.म. मंडल द्वारा निर्देशित कनेक्शन विथ सक्सेस कार्यशाला का आयोजन किया गया। ठाणा, मुलुंड, भांडुप, ऐरोली, भिवंडी, कंजुरमार्ग, भायंदर, मीरारोड से आई महिलाओं ने इसमें बड़ी संख्या में भाग लिया। मुम्बई महिलामंडल की अध्यक्ष भाग्यश्री कच्छारा, पूर्व अध्यक्ष जयश्री बडाला, निर्मला चंडालिया, मंत्री स्वीटी लोढा ,कांता बच्छावत की गरिमामय उपस्थिति रही। इस अवसर पर एक स्टोरी टेलिंग प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। जिसमें निर्णायक की भूमिका सतीश शर्मा व आरती संजीव ने निभाई।
साध्वी आणिमाश्रीजी ने अपने उद्बोधन में कहा सफलता उन्हें प्राप्त होती है, जो किसी भी स्थिति में हार नही मानते। असफलता से जो हार मान लेते है, वह व्यक्ति किसी भी क्षेत्र में सफलता प्राप्त नही कर सकता, किन्तु जो लोग असफलता में भी नई प्रेरणा लेकर, नया अनुभव लेकर पुनः आगे प्रयास करता है, वह सफलता के शिखर तक अवश्य पहुचता है। सफलता पाने की चाहत हर किसी मे होती है, लेकिन सफलता के लिए हार्ड वर्क नही स्मार्ट वर्क की जरूरत होती है। स्मार्ट वर्किंग सफलता के द्वार खोल सकती है।
साध्वी मंगलप्रज्ञाजी ने प्रेरणा पाथेय प्रदान करते हुए कहा सफलता का एक छोटा सा फार्मूला है – एएफटी। ए यानी एप्रिसिएट, खुद को व दुसरो को एप्रिसिएट करने वाला सफल होता है। एफ यानी फेथ, जिसकी कार्य के प्रति निष्ठा, आस्था, विश्वाश व श्रद्धा होती है, वह सफलता का वरण करता है। टी यानी टोलरेंस, सहन करने वाला सफलता प्राप्त करता है।
साध्वी सुधाप्रभाजी ने कहा आत्मविश्वाश की सफलता में मशाल हाथ मे थामकर सफलता की ज्योति से जीवन को ज्योतिर्गमय बनाएं। धैर्य की कलम लेकर सफलता की कहानी लिखे। पुरुषार्थ का हल लेकर जीवनरूपी खेती में सफलता के मोती उगाए।
मुम्बई महिला मंडल अध्यक्ष भाग्यश्री कच्छारा ने सफलता के टिप्स बताये। मीनाक्षी श्रीश्रीमाल ने स्वागत भाषण एवं आभार ज्ञापन अनिता धारिवाल ने किया। मंगल संगान ठाणे महिला मंडल की बहनों ने तथा संचालन सुनीता चोपड़ा ने किया। स्टोरी टेलिंग प्रतियोगिता में भायंदर से श्वेता आच्छा, मंजू नाहर, भांडुप से अनिता राठोड, मंजू हिरण, ठाणे से दिव्या सांखला, यशा भंसाली, ऐरोली से हेमा कोठारी, कोपरि से रेखा बाफना, मीना बाफना, शोभा, मुलुंड से अरुणा बांठिया, निर्मला जैन, संगीता चंडालिया, ठाणे सेंट्रल से ललिता सोनी व भारती ओस्तवाल, कंजुरमार्ग से पूजा चंडालिया, वागले एस्टेट से लीलाजी सिंघवी, नीलम हिरण, भिवंडी से डिम्पल बाफना, शीतल बाफना ने भाग लिया। जिसमे प्रथम स्थान भारती ओस्तवाल, द्वितीय रेखा बाफना, तृतीय अरुणा बांठिया रही। प्रोत्साहन पुरस्कार नीलम जी हिरण को दिया गया। अनिता धारिवाल, मीनाक्षी श्रीश्रीमाल, सुनीता चोपड़ा, रमिला बडाला, प्रतिभा चोपड़ा, उमरावजी सेठिया, पिस्ताजी चौरड़िया व अंजिल इंटोदिया का श्रम मुखर रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)