कांकरिया मणिनगर (अहमदाबाद) में चातुर्मासिक मंगलप्रवेश व स्वागत कार्यक्रम 

0
78

अहमदाबाद। आचार्य श्री महाश्रमण जी की विदुषी शिष्या शासनश्री साध्वी रामकुमारी जी एवं सहवर्ती साध्वीवृन्द का चातुर्मासिक प्रवेश तेरापंथ भवन कांकरिया में गुरुवार को अनुशासन रैली के माध्यम से हुआ। अनुशासन रैली का प्रारंभ श्रावक नोरतन जी बैद के निवास से हुआ।अनुशासन रैली लगभग 2 किलोमीटर का सफर तय करती हुई तेरापंथ भवन कांकरिया पहुँची वहाँ पर कांकरिया सभा के उपाध्यक्ष पवन जी अग्रवाल ने सभी का स्वागत किया। पूरे रास्ते मे जैन धर्म के नारों व गीतिका का सगान श्रावक श्राविकाओं द्वारा किया जा रहा था। प्रवेश रैली बाद में धर्मसभा के रुप मे परिवर्तित हो गई।
शासन श्री साध्वी रामकुमारी जी अपने मंगल उदबोधन देते हुए कहा की साधु का कार्य है श्रावको को तप, दर्शन, ज्ञान, चरित्र की साधनाओ के बारे में इस चातुर्मासिक काल मे विस्तृत जानकारी दे उनके आध्यात्मिक जीवन मे आगे बढ़ने की प्रेरणा दे ओर उनके जीवन को सुंदर बनाने में सहयोगी बने।इस अवसर साध्वी आत्मप्रभा जी ने भी अपने विचारों से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया।साध्वीवृन्द द्वारा गीतिका प्रस्तुत की गई।महिला प्रकोष्ठ की बहिनो सपना गोलछा, सरिता सिंघी,सुमन मालू ,भारती चिण्डालिया,विशाखा दफ़तरी व बसंती देवी हिंगड़ द्वारा गीतिका की प्रस्तुति दी गई।
कांकरिया सभा के कोषाध्यक्ष कंवरलाल जी पटवा,अहमदाबाद सभाध्यक्ष नरेन्द्र जी सुराणा,पश्चिम सभाध्यक्ष लूणकरण जी सांड, महिला मंडल अध्यक्ष रेखा जी कोठारी, तेयुप अध्यक्ष राजेश जी चौपड़ा, अणुव्रत समिति अध्यक्ष विमल जी बोरदिया,मंजू जी पटवा,विमला जी सेठिया,चांद बाई छाजेड़,नानालालजी कोठारी,स्नेह भंशाली सहित अनेक सदस्यों ने साध्वी श्री जी के चातुर्मास की मंगलकामना की। रैली का सफल बनाने में रैली संयोजक मनोज सिंघी व कांकरिया सभा के सदस्यों राजेश बरमेचा,महेन्द्र टांटिया, ललित वेगवानी,पवन संचेती,रवीन्द्र भूतोड़िया, प्रवीण श्यामसूखा, पुनीत श्यामसुखा,आशीष पारख,सुनील बोहरा, अशोक दूगड़,जयसिंह नखत,नोरतन गाँधी,सुधीर बरडिया,सोभाग तातेड़, का विशेष श्रम रहा।कार्यक्रम का सफल संचालन कांकरिया सभा के उपाध्यक्ष पवन जी अग्रवाल ने किया।आभार ज्ञापन तेयुप के निवर्तमान अध्यक्ष वीरेन्द्र मणोत ने किया। यह जानकारी सरला भंसाली ने दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)