जांबाज़ और दिव्यांगों की बहादुरी को एम्पल मिशन ने किया ‘ द शूरवीर अवार्ड्स’ और ‘भारत प्रेरणा अवार्ड’ से सम्मानित

0
10

मुंबई। एम्पल मिशन के संस्थापक डॉ. अनिल काशी मुरारका द्वारा ‘द शूरवीर अवार्ड्स और ‘भारत प्रेरणा अवार्ड 2019’ का आयोजन बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ऑडिटोरियम में किया गया. अवार्ड समारोह में जीवन के असली नायकों को उनके काम के माध्यम से मानव और समाज में उनके योगदान के लिए सम्मानित किया गया.
कार्यक्रम में सम्मानित पुरस्कृत व्यक्ति आम आदमी और महिलाओं के साथ साथ पुलिसकर्मी, अग्निशमन कर्मी, सैनिक के रूप में उपस्थित हुए जिन्होंने साहस और बहादुरी के साथ कई ज़िंदगी बचाई.
भारत प्रेरणा अवार्ड से उन लोगों को सम्मानित किया गया जो अपनी स्थिति से ऊपर उठ चुके हैं, चाहे वह शारीरिक अक्षमता हो या मानसिक बीमारी हो. जिन्हें लोग दिव्यांग समझकर सहानुभूति रखते हैं, कभी कभी उनके साहसपूर्ण असाधारण करतब आम लोगों के लिए प्रेरणा के स्रोत बन जाते हैं. उनके साहस को देखते हुए आम जन को एक नई स्फूर्ति की अनुभूति मिलती है. एम्पल मिशन भारत प्रेरणा अवार्ड के तहत दिव्यांगों की बहादुरी का सम्मान करते हुए उन्हें समाज में विशिष्ट स्थान दिलाता है.
शूरवीर अवार्ड एम्पल मिशन की एक अनूठी पहल है जो देशभर के ऐसे पुरुषों और महिलाओं को सम्मानित करती है जो अपनी जान पर खेल कर मुसीबत में फंसे लोगों का जीवन बचाते हैं. डॉ. अनिल मुरारका के अनुसार जांबाज़ व्यक्तियों का सम्मान कर पाना संस्था के लिए बड़े गर्व की बात है.
अवार्ड समारोह में फ़िल्म कलाकार पूजा बेदी, शांति प्रिया, राजू श्रीवास्तव, मुकेश ऋषि, टीवी कलाकार जितेन लालवानी, जिनल पंड्या, प्राची तहलन, सामाजिक कार्यकर्ता व वकील आभा सिंह, समाजसेविका मंजुबेन लोढ़ा, योगगुरु देवेंद्र भाई, गायिका शिबानी कश्यप, रिज़वान सिकंदर जैसी हस्तियां उपस्थित रहकर आम जीवन में वीरता का परिचय देने वाले व्यक्ति विशेष और दिव्यांगजनों के अद्भुत साहस की सराहना किये.
– गायत्री साहू

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)