वेब सीरीज़ ‘हवा बदले हस्सू’ में चंदन रॉय सान्याल ने चलाया इको फ्रेंडली रिक्शा

0
13

‘हवा बदले हस्सु’ पर्यावरण से जुड़ी एक साइंस फ़िक्शन वेब सीरीज़ है जिसमें चंदन रॉय सान्याल एक अलग किस्म के रोल में दिखाई देंगे. गौरतलब है कि इस वेब सीरीज़ की ज़्यादातर शूटिंग एक रिक्शा के अंदर हुई है. उल्लेखनीय है कि अपना किरदार निभाने के लिए चंदन को महज़ दो घंटे में रिक्शा चलाना सीखना पड़ा. ऐसे में एक थिंकिंग एक्टर की छवि रखनेवाले चंदन ने तड़के एक दिन एक रिक्शेवाले से वर्सोवा में रिक्शा चलाना सीखा.
‘हवा बदले हस्सु’ एक ऐसे रिक्शा चालक हसमुख पांडे की कहानी है जिसे पर्यावरण से बेहद प्यार है और वह वायु प्रदूषण को लेकर बेहद चिंतित रहता है. इस स्थिति को बदलने के लिए वह शिद्दत से कुछ करना चाहता है. ऐसे में वह अपने यात्रियों से रोज़ाना की ज़िंदगी की बातें करने के दौरान उन्हें वायु प्रदूषण के बारे में शिक्षित करता है. हस्सु बदलाव में यकीन करनेवाला ऐसा शख़्स है जो ईंधन के रूप में सीएनजी का इस्तेमाल करते हुए पर्यावरण के प्रति अपना छोटा सा योगदान देता है और अपने रिक्शा को ईको-फ्रेंडली ज़ोन में बदल देता है.
अपने रोल के बारे में चंदन ने बताया कि यह एक बेहद चुनौतीपूर्ण रोल था. इस सीरीज़ के लिए न सिर्फ़ मुझे चंद घंटों में रिक्शा चलाना सीखना पड़ा, बल्कि मुझे ज़्यादातर सीन्स रिक्शा के अंदर ही करने पड़े क्योंकि 70 फ़ीसदी सीरीज़ रिक्शा के अंदर ही शूट की गयी है. ऐसी में मेरी चुनौती का सहज अंदाज़ा लगाया जा सकता है. उस छोटी सी जगह में बैठकर सारे संवाद बोलना और अपने जज़्बातों को ज़ाहिर रखना आसान काम नहीं था.
‘हवा बदले हस्सु’ ज़िंदगी का अक्स दिखाने वाली फिल्म के तौर पर शुरू होती है और फिर ये सीरीज एक साइंस फ़िक़्शन में बदल जाती है. इस सीरीज़ के दूसरे सीजन‌ में इससे संबंधित इसकी ज़्यादा झलक देखने को मिलेगी.
‘हवा बदले हस्सू’ में चंदन रॉय सान्याल के साथ स्मिता तांबे, धीरेंद्र द्विवेदी, विक्रम कोचर और अमेरिकन अभिनेता जैकरी कॉफिन ने मुख्य भूमिका निभाया है.
इस वेब सीरीज के निर्माता लेखक प्रोतिक मजूमदार और निर्देशक जोड़ी शिवा – सप्तराज हैं. सोनी लिव पर यह वेब सीरीज़ रिलीज की गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)