मेवाड़ भवन वाशी में आध्यात्मिक रक्षा बंधन

0
877

वाशी: गुरुवार को वाशी स्थित मेवाड़ भवन में श्री वर्धमान स्थानकवासी जैन श्रावक संघ ट्रस्ट मेवाड़ नवी मुम्बई की ओर से रक्षाबंधन के उपलक्ष्य में भव्य कार्यक्रम का आयोजन साध्वी श्री सुमनप्रभा म.सा., साध्वी स्वर्ण श्री म.सा., साध्वी चंद्रयशा जी म.सा., साध्वी श्री देशना जी म.सा, साध्वी श्री देवेंद्रप्रभा जी म.सा. एवं साध्वी श्री विभाश्री जी मा. सा के सानिध्य में आयोजित किया गया। इस पावन अवसर पर साध्वी श्री सुमनप्रभा म.सा. जी ने श्रावक समाज का मार्गदर्शन करते हुए फरमाया की रक्षा बंधन महापर्व भाई बहन के अटूट रिश्ते का महापर्व हैं। रक्षा बंधन शब्द का अर्थ भाई का बहन से रक्षा का संकल्प करना हैं। लाल रंग व्यक्ति में ऊर्जा का संचार करती हैं। साध्वी श्री स्वर्णश्री जी मा. सा ने मंत्रोचारण के माध्यम से श्रावकों में ऊर्जा का संचार किया। साथ ही मंत्रोचारण के साथ श्रावकों रक्षा सूत्र से बाधा।
संरक्षक भंवरलाल बोहरा ने कहा कि चातुर्मासिक महापर्व के शुरुवात से अब तक मेवाड़ भवन के प्रांगण में धर्म की गंगा अविरल प्रवाहित हो रही हैं। साथ ही हमें आज के दिन यह संकल्प करना चाहिए कि हमें रक्षा की भावना रखनी चाहिए। वही भवन में उपस्थित श्रावक समाज ने साध्वी श्री चंद्रयशा जी मा. सा की मासखमण तपस्या की अनुमोदना किया। साथ ही महाराज जी का आगे भी तपस्या जारी रखने का भाव व्यक्त किया। वाशी मेवाड़ संघ के मंत्री बाबूलाल पगारिया ने सूचना के साथ भाव रखें। इस अवसर पर मेवाड़ मुम्बई महिला अध्यक्षा राजकुमारी बोहरा, वाशी मेवाड़ संघ अध्यक्ष पारस वडालमिया, कोषाध्यक्ष राजेश मेहता, मीडिया प्रभारी सुनील बोहरा, महिला मंडल, नवयुवक मंडल, कन्या मंडल एवं समस्त पदाधिकारी एवं सदस्यगणों की उपस्थिति रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)