ऐरोली में ‘सही अवसर की करें पहचान’ कार्यशाला का आयोजन

0
51

ऐरोली। साध्वी श्री अणिमाश्रीजी व साध्वी श्री मंगलप्रज्ञाजी के सानिध्य में ऎरोली महिला मंडल द्वारा “करे सही अवसर की पहचान” कार्यशाला का आयोजन किया गया। छुट्टियों का माहौल होने के बावजूद बहनों ने अवसर का अच्छा लाभ उठाया। कार्यशाला में भाई बहनों की अच्छी उपस्थिति रही।
साध्वी श्री अणिमाश्रीजी ने अपने प्रेरक उद्बोधन में कहा जिंदगी के सफर में कामयाबी की ललक हर व्यक्ति में रहती है मगर कामयाबी के उत्तंग के शिखर पर वही व्यक्ति पहुंच पाता है जिसने अवसर की सही पहचान की हो, जिसने समय के साथ निरंतर गतिशील रहने का प्रयत्न किया हो। अवसर हर व्यक्ति के द्वार पर जरूर दस्तक देता है मगर उस आवाज को वही सुन व समझ सकता है जो सजग है व जागरूक है। हर व्यक्ति के लिए अवसर की पहचान जरूरी है। सही समय के साथ चलें और अवसर का सार्थक उपयोग करके अपने जीवन को शानदार, जानदार व वजनदार बनाएं।
सावित्री मंगल प्रज्ञा जी ने कहा सही अवसर की पहचान करने वाला व्यक्ति विकास के शिखर पर आरोहण करता है। अवसर को समझने वाला व्यक्ति जीवन में सफलता के दर्शन करता है। अवसर का सार्थक उपयोग करने वाला जीवन में मंजिल को प्राप्त करता है।
*साध्वी सुधाप्रभाजी ने मंच संचालन करते हुए कहा समय सबसे बड़ा धन है इस धन को वहीं प्राप्त कर सकता है जो अवसरज्ञ होता है। हाथ में आए अवसर का सार्थक उपयोग कर जीवन को नई दिशा दें।
*साध्वी मैत्रीप्रभाजी ने अपने भावों की प्रस्तुति दी। एरोली महिला मंडल ने मंगल संगान किया। संयोजिका मीना डूंगरवाल ने अपने विचार व्यक्त किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)