एटीजीएम मिसाइल का हुआ सफल परीक्षण

0
9

नई दिल्ली: पाकिस्तानी टैंकों को आसानी से टारगेट करने के लिए भारत ने नई मिसाइल बनाई है। बुधवार रात को डीआरडीओ द्वारा विकसित मैन पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का राजस्थान में सफल परीक्षण किया गया। इन्फेन्ट्री के लिए विकसित

की गई इस मिसाइल से सेना को काफी मदद मिलेगी। इसकी मांग सेना लंबे समय से कर रही है। कल रात 2-3 किलोमीटर स्ट्राइक रेंज के साथ इस मिसाइल का परीक्षण किया गया।

भारत पाकिस्तान से लगभग 15 हजार किलोमीटर की जमीनी सीमा शेयर करता है। भारतीय सेना को जमीन पर काफी मजबूती मिलेगी। 2021 से इसके मास प्रोडक्शन की संभावना है। 2.5 किमी रेंज वाली इस मिसाइल का निर्माण भारत में होगा। इसकी तुलना अमेरिका में बनी एफजीएम-148 से हो रही है। भारत ने इसे एफजीएम-148 को दरकिनार करके चुना था।

क्यों खास है ये मिसाइल-

  • . यह एक एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल है।
  • . यह एक मैन पोर्टेबल मिसाइल है। इसे आसनी ले जाया जा सकता है।
  • . इसे टैंक और हेलिकॉप्टर या लड़ाकू विमान से भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • . इसे कंधे पर रखकर भी दागा जा सकता है।

भारत को होंगे ये फायदे-

  • . पाकिस्तान और चीन के मुकाबले संतुलन स्थापित करने में मदद मिलेगा।
  • . युद्ध में जमीनी सेना को मजबूती मिलेगी।
  • . सेना को इसके ट्रांसपोटेशन में आसानी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)