श्रावक-श्राविकाओं की भारी उपस्थिति में कांदिवली तेरापंथ भवन में धूमधाम से मना मर्यादा महोत्सव

0
216

कांदिवली: मंगलवार को तेरापंथ धर्म संघ का महाकुंभ कहा जाने वाला मर्यादा महोत्सव का विराट आयोजन आगम मनीषी प्रोफेसर मुनि श्री महेंद्रकुमार जी एवं मुनिवृंद  शासनश्री साध्वी श्री कैलाशवती जी, साध्वी श्री अणिमा श्री जी,  साध्वी श्री मंगल प्रज्ञा जी एवं साध्वी वृन्द के  सानिध्य में तेरापंथ भवन कांदीवली में संपन्न हुआ। आगम मनीषी प्रोफेसर मुनि श्री महेंद्र कुमार जी ने फरमाया कि हम भगवान महावीर के प्रति आभारी है कि उन्होंने  वीतरागता का मार्ग बताया। साथ ही आचार्य परंपरा के प्रति हम सभी आभारी है कि जिन्होंने हमें मर्यादाओं में बांधते हुए सफल जीवन बनाने के लिए अग्रसर किया। आत्म चिंतन का महोत्सव है मर्यादा महोत्सव। शासन श्री साध्वी श्री कैलाशवती जी ने कहा कि हमारे धर्म संघ के आचार्यो ने जो लकीरे खिंची वही हमारे धर्म संघ की मर्यादाएं बन गई। हमारा धर्म संघ मर्यादित अनुशासित  और व्यवस्थित धर्म संघ हैं। मर्यादा हमारे लिए उपहार है श्रृंगार है। साध्वी श्री अणिमा जी आचार्य भिक्षु की मर्यादा महोत्सव की जो एक कड़ी शुरू हुई वो आज भी अविरल प्रवाहित हो रही हैं। हमारे धर्म संघ का प्राण हमारी मर्यादाएं हैं। धर्म संघ के साधु संतों के साथ साथ श्रावकों के लिए भी मर्यादाएं बनाई गई हैं। और उन मर्यादाओं को अगर श्रावक समाज अपने अंदर उतारता हैं तो धर्म संघ का भविष्य उज्जवल हो जाता हैं। साथ ही श्रावकों को संदेश दिया कि व्हाट्सएप के माध्यम से धर्म संघ को नुकसान पहुचाने वाले संदेशों को आगे न बढ़ाने की प्रेरणा प्रदान किया। शादियों में अमर्यादित तरीके से हो रहे खर्च और अमर्यादित कार्यक्रमों पर नियंत्रण रखने की बात कही।
डॉक्टर साध्वी मंगल प्रज्ञा जी आज का उत्सव संगठन का उत्सव है। मर्यादाओं का महोत्सव हैं। अनुशासन ही हमारे धर्म संघ का प्रमुख अंग हैं। साथ ही अनुशासन निष्ट साधु साध्वियों के साथ साथ अनुशासन निष्ट श्रावक समाज की वजह से आचार्यो की परंपरा कायम हैं। साध्वी श्री मैत्री प्रभा जी, साध्वी श्री शारदा प्रभा जी, मुनि जागृत कुमार, साध्वी श्री पंकज जी, साध्वी सुधा प्रभा जी, मुनि श्री अजित कुमार जी, मुनि श्री सिद्ध कुमार सभी ने श्रावकों का मार्गदर्शन किया। साध्वी वृन्दों ने सुंदर गीतिका के माध्यम से मर्यादा महोत्सव के महत्व को दर्शाया। एवं डॉक्टर मुनि श्री अभिजीत कुमार जी ने मंच का संचालन करते हुए श्रावकों का मार्गदर्शन किया।
सभा मंत्री विजय पटवारी ने सभी चारित्रात्माओं आत्माओं के वंदन के साथ सभी श्रावकों का स्वागत अभिनंदन किया साथ ही कहा कि जीवन का सबसे बड़ा महोत्सव मर्यादा महोत्सव। वरिष्ठ उपाध्यक्ष बाबुलाल बाफना ने भी सभी का स्वागत अभिनंदन करते हुए कहा कि प्रयागराज में सनातन धर्म का महाकुम्भ चल रहा है ठीक उसी तरह तेरापंथ धर्म का महाकुंभ मर्यादा महोत्सव पूज्य प्रवर के सानिध्य में चल रहा हैं। कार्यक्रम की शुरुवात नवकार महामंत्र के उच्चारण के साथ हुआ। कांदिवली मालाड महिला मंडल ने सुंदर गीतिका की प्रस्तुति दी। संघ गायिका मीनाक्षी भूतोड़िया अपने कोकिल कंठ से मर्यादा महोत्सव को केंद्रित करते हुए सुंदर गीत की प्रस्तुति दी। कांदिवली महिला मंडल ने मर्यादा महोत्सव की सुंदर यात्रा को नाटिका के माध्यम से चित्रित किया। मुम्बई महिला अध्यक्षा जयश्री बड़ाला ने अपने भाव रखे।
इस अवसर पर ताराचंद बांठिया, अर्जुन चौधरी, सुनील कच्छारा, मनोहर गोखरू, टीपीएफ मुंबई अध्यक्ष दीपक डागलिया, महेंद्र तातेड़, अणुव्रत जीवन विज्ञान अकादमी संयोजक प्रीतम हिरण, पारस दुग्गड़, मनोज ढलावत, किशोर धाकड़, रवि दोषी, विनोद डांगी, हस्तीमल डांगी, चंद्रप्रकाश बोहरा, मंत्री श्वेता सुराणा, ज्ञानशाला आंचलिक संयोजिका सुमन चपलोत, रमेश सोनी, मनोहर कच्छारा, पवन ओस्तवाल, दिनेश सिंघवी, भरत लोढा, नवीन चौधरी, महेश मेहता, राजकुमार चपलोत, अनिल परमार, निर्मल कुमठ, तरुणा बोहरा, रचना हिरण, भारती सेठिया, निर्मला चंडालिया, आदि की उपस्थिति रही।
कार्यक्रम को सफल बनाने में श्री तुलसी महाप्रज्ञ फाउंडेशन के अध्यक्ष सुरेंद्र कुमार कोठारी ,मंत्री कमलेश कुमार बोहरा, कोषाध्यक्ष जवरी मल नोलखा, तेरापंथ सभा मुंबई के वरिष्ठ उपाध्यक्ष बाबूलाल बाफना, विनोदकुमार बोहरा, भानुकुमार नाहटा, नवरत्न गन्ना, उपाध्यक्ष  नरेन्द्र कुमार बाँटिया, गणपत डागलिया, बाबुलाल समदरिया, सुरेश राठोड, भवरलाल बापना, लक्ष्मण कोठारी, मांगीलाल छाजेड़, भीमराज सुराणा, हस्तीमल मेहता, संपत चोरडिया, भगवतीलाल पटवारी, कोषाध्यक्ष योगेश चौधरी, हस्तीमल डाँगी, संगठन मंत्री विष्णु बाफना, भगवतीलाल धाकड़, राजेंद्र कुमार मूथा, सहमंत्री मनोज सिंघवी, ख़्याली लाल कोठारी, नरेंद्र सिंघवी, गोतम डागा, अनिल सिंघवी, प्रचार मंत्री भगवतीलाल धाकड़, विनोद सोलंकी, नितेश धाकड, अणुव्रत समिति अध्यक्ष रमेश चौधरी, तेरापंथ सभा मलाड के अध्यक्ष दलपत बाबेल, मंत्री संजय मुणोत, कांदिवली अध्यक्ष जवरीमल नोलखा, मंत्री शांतिलाल भलावत, तेयुप मालाड अध्यक्ष दिलीप चपलोत, मंत्री मनोज लोढा, संयोजिका गोमती मेहता, कांदीवली अध्यक्ष विनोद डागलिया, मंत्री अशोक कोठारी, संयोजिका सुशीला मादरेचा आदि का रहा। कार्यक्रम में आभार ज्ञापन विनोद बोहरा ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)