शिवसेना ने बीजेपी को संदेश भिजवाया 

0
9

 मुंबई: एक तरफ बीजेपी महाराष्ट्र में अपने सहयोगी दल शिवसेना से गठबंधन के लिए सारे प्रयास आजमा रही है, तो दूसरी ओर शिवसेना आसानी से मानती नजर नहीं आ रही है। दो दिन पहले दोनों दलों के नेताओं के बीच फोन पर बातचीत हुई थी। सूत्रों के अनुसार, गठबंधन के लिए शिवसेना की नजरें 1995 मॉडल पर हैं। इसके लिए वह 288 सीटों वाली विधानसभा में लगभग 150 सीटें और लोकसभा चुनाव के लिए महाराष्ट्र की कुल 48 सीटों में से 25-26 सीटें मांगेगी।
शिवसेना के शीर्ष नेतृत्व ने बीजेपी को संदेश भिजवाया है कि गठबंधन पर गंभीरता से बातचीत तभी शुरू होगी, जब उसके लिए 1995 के मॉडल को आधार बनाया जाएगा। 1995 में पहली बार महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी की सरकार बनी थी, जिसे नेतृत्व गठबंधन के मुख्यमंत्री मनोहर जोशी ने दिया था और शिवसेना गठबंधन की प्रमुख साझेदार थी। शिवसेना की तरफ से जो 1995 वाले मॉडल की बात हो रही है, उसमें उसकी डिमांड का पूरा पैकेज है।
मॉडल के हिसाब से शिवसेना की पहली मांग यह होगी कि फडणवीस की सरकार भंग कर दी जाए और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव लोकसभा चुनाव के साथ ही कराए जाएं। सेना की दूसरी मांग यह होगी कि अगर बीजेपी उसके साथ गठबंधन करना चाहती है तो, उसे मुख्यमंत्री पद पर शिवसेना का दावा कबूल करना होगा। इसके लिए वह 288 सीटों वाली विधानसभा में लगभग 150 सीटें और लोकसभा चुनाव के लिए महाराष्ट्र की कुल 48 सीटों में से 25-26 सीटें मांगेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)