वरिष्ठ समाजवादी नेता शरद यादव का हुआ अंतिम संस्कार, पुत्र शांतनु और बेटी शुभाषिनी ने मिलकर दी मुखाग्नि

नर्मदापुरम/भोपाल। वरिष्ठ समाजवादी नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव का मध्यप्रदेश के नर्मदापुरम जिले में स्थित गृहगांव आंखमऊ में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। श्री यादव के पुत्र शांतनु और बेटी शुभाषिनी दोनों ने मिलकर मुखाग्नि दी। इस मौके पर मध्यप्रदेश के अलावा दिल्ली,  बिहार और उत्तरप्रदेश से आए अनेक समाजवादी नेता और कार्यकर्ता मौजूद थे। उनकी पार्थिक देह भोपाल से सड़क मार्ग से दिन में आंखमऊ ले जायी गयी। शाम को उनकी अंत्येष्टि की गयी। इसके पहले गांव में अंतिम यात्रा में हजारों की संख्या में ग्रामीण और आसपास के लोग भी मौजूद रहे।
नर्मदापुरम जिले के बाबई में जन्मे श्री यादव का गुरुवार रात्रि में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के एक अस्पताल में निधन हो गया था। उनकी पार्थिव देह को आज दिन में विशेष विमान से भोपाल लाया गया। भोपाल के पुराने एयरपोर्ट क्षेत्र में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के अलावा अनेक नेताओं ने पहुंचकर श्रद्धासुमन अर्पित किए और शोकाकुल परिजनों को ढांढस बंधाया। इसके बाद पार्थिव देह को सड़क मार्ग से गृह गांव आंखमऊ ले जाया गया।
श्री यादव प्रारंभिक शिक्षा के बाद राज्य के जबलपुर चले गए थे और वहीं से राजनीति के क्षेत्र में सक्रिय हुए। वे जबलपुर से सबसे पहली बार सांसद चुने गए थे। इसके बाद वे राष्ट्रीय राजनीति में सक्रिय हो गए और उत्तरप्रदेश तथा बिहार को अपनी कर्मभूमि बना लिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *