बक्सर थर्मल पॉवर प्लांट के लिए जमीन अधिग्रहण मुआवजे को लेकर किसानों का उग्र प्रदर्शन, पुलिस और ग्रामीणो में हिंसक झड़प

पंकज श्रीवास्तव/पटना। बक्सर थर्मल पावर प्लांट के लिए जमीन अधिग्रहण मुआवजे को लेकर किसानों का प्रदर्शन उग्र हो गया है। देर रात पुलिस ने जहाँ घर खुलवाकर औरत मर्द और बच्चों को पीटा वही पलटवार करते हुए ग्रामीण आज तड़के लाठी-डंडे लेकर पुलिस और पावर प्लांट पर टूट पड़े। पुलिस की गाड़ियों  में तोड़फोड़ की एक बज्र वाहन आग को आग के हवाले कर दिया है। पुलिस ने हवाई फायरिंग करके भीड़ को खदेड़ने की कोशिश भी की है। इस झड़प में कई पुलिसकर्मियों और ग्रामीणों के घायल होने की सूचना है।
बताते चलें किसान पिछले 85 दिन से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। किसानों ने कल मंगलवार को प्लांट के मुख्य गेट पर ताला लगा दिया और धरने पर बैठ गए। उस वक्त तो पुलिस ने कुछ नहीं किया, लेकिन रात को पुलिस ने बनारपुर गांव में घुस कर ग्रामीणों का घर खुलवाया और घर में मौजूद औरत मर्द और बच्चों को जमकर पीटा जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस दरम्यान पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार भी किया था। फिलहाल पूरा इलाका पुलिस छावनी में तब्दील है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 1320 मेगावाट के इस प्लांट की आधारशिला 9 मार्च 2019 को रखी थी। ग्रीन फील्ड सुपर क्रिटिकल टेक्नोलॉजी वाले इस प्रोजेक्ट की लागत तकरीबन 11,000 करोड़ है। इसे केंद्र और हिमाचल प्रदेश सरकार की संयुक्त स्वामित्व वाली SJVN (सतलुज जल विद्युत निगम) बना रही है। अगर काम की बात की जाए तो अबतक 75% काम पूरा भी हो गया है। प्लांट तैयार हो जाता है तो इसे 9828 मिलियन यूनिट विद्युत का उत्पादन होगा संयंत्र से उत्पादित बिजली का 85% बिहार को दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि बक्सर जिला भू-अर्जन कार्यालय के अनुसार चौसा क्षेत्र के चौदह गांवों के मौजे के 137.0077 एकड़ जमीन पर रेल कॉरिडोर भी बनाये जाना है। इसके लिए 55.445 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण होना है।
इस बावत इसमें कई गांव के मौजे के कुल 309 किसानों की भूमि की अधिसूचना निकाली गई है। आपको ये भी बताते चलें कि बनारपुर, ​​​सलारपुर, महुवारी, हुसैनपुर, कठघरवा, खेमराजपुर, चौसा, न्यायीपुर, धर्मागतपुर, महादेवा, माधोपुर, अखौरीपुर गोला, बघेलवा, बेचनपुरवा और मोहनपुरवा के जमीन अधिग्रहण के जद में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *