गुजरात का ये बीच है फैमिली, फ्रेंड्स और पार्टनर के साथ मस्ती करने के लिए परफेक्ट

0
6

अगर आपका मन इन सर्दियों में बीच पर जाने का कर रहा है, तो फिर अरब सागर के पश्चिम तट का रुख कर सकते हैं। यहां आपको न सिर्फ बीच मिलेगा, बल्कि मिलेगी कुछ राजसी रियासतें, जिन्हें देखकर आप भी रजवाड़ों के वैभव के मुरीद हो जाएंगे।
गुजरात में एक ऐसा बीच है जो अभी भी अनछुआ है। इस बीच पर आराम से लंबी वॉक कर सकते हैं। बीच से सनसेट बहुत सुंदर दिखाई देता है। बीच तक पहुंचने के रास्ते में आपको दूर क्षीतिज पर विशाल विंडमिल दिखाई देगा। कच्छ, भुज अहमदाबाद आकर इस बीच को नहीं देखा तो मतलब आपकी गुजरात यात्रा अधूरी है। कपल, फैमिली, फ्रेंड्स किसी के भी साथ आकर आप यहां मस्ती कर सकते हैं। हर एक जगह को आराम से घूमने के लिए 2-3 दिन का समय सही रहेगा।
विजय विलास पैलेस
मांडवी के नजदीक ही भुज के राजा का एक शानदार पैलेस है, जिसका नाम विजय विलास पैलेस है। यहां कई फिल्मों की शूटिंग भी हुई है। यह पैलेस अपनी खूबसूरत वास्तुकला के लिए प्रसिद्ध है।
मजार-ए-नूरानी दरगाह
मांडवी में दाऊदी वोहरा समाज की एक खूबसूरत दरगाह भी है, जिसे मजार-ए-नूरानी कहा जाता है। सयदना नूर मोहम्मद नूरूद्दीन साहब की इस दरगाह की बड़ी दूर-दूर तक मान्यता है।
जैन मंदिर
मांडवी में सफेद संगमरमर का बना एक खूबसूरत जैन मंदिर भी है। यह मंदिर अपनी वास्तुकला के लिए जाना जाता है।

रूकमावती ब्रिज
1883 में रूकमावती नदी पर बना यह पत्थर का सबसे लंबा और भारत में अपनी तरह का एकमात्र पुल है। जो यहां इसे भी देखने जरूर जाएं।
शिपयार्ड
मांडवी गुजरात में अपने शिपयार्ड के लिए भी बहुत मशहूर है।
कब आएं
गुजरात घूमने के लिए अक्टूबर से मार्च के बीच का महीना एकदम परफेक्ट होता है। सिर्फ मौसम ही नहीं उस दौरान आप यहां मनाए जाने वाले रण फेस्टिवल की धूम भी देख सकते हैं जो वाकई अद्भुत होता है।
कैसे पहुंचे
हवाई मार्ग- सूरत यहां का नज़दीकी एयरपोर्ट है जहां से मांडवी बीच की दूरी 166 किमी है। लगभग सभी बड़े शहरों से मांडवी के लिए फ्लाइट्स अवेलेबेल हैं।
रेल मार्ग- मधी, मांडवी का निकटतम रेलवे स्टेशन है। जो 175 किमी दूर है। दिल्ली, मुंबई, बैंगलुरू और भी कई बड़ें शहरों से यहां के लिए ट्रेनें चलती हैं।
सड़क मार्ग- बस और प्राइवेट टैक्सी हायर करके आप आसानी से बीच तक पहुंच सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)