स्वरांजलि कल्चरल ट्रस्ट, मुंबई ने भव्य संगीत समारोह में पार्श्वगायक, गीतकार, संगीतकार रवि जैन को किया सम्मानित

मुम्बई। डी.जी.खेतान इंटरनेशनल स्कूल ऑडिटोरियम में स्वरांजलि कल्चरल ट्रस्ट द्वारा ट्रस्ट के अध्यक्ष प्रसिद्ध संगीतकार व गायक श्री ज्ञानेश्वर दुबे जी की खूबसूरत गायकी में गीत संगीत की रंगारंग शाम सजी। इस अवसर पर बॉलीवुड पार्श्वगायक, गीतकार, संगीतकार और अभिनेता श्री रवि जैन का विशेष सम्मान श्री अश्विनी कुमार चौबे जी (खाद्य व सार्वजनिक वितरण और पर्यावरण वन और जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री) के हाथों हुआ। उन्होंने वहां अपनी भोजपुरी की रचना सुनाई जिसके बोल हैं “आपन माटी के, आपन लोगन के बातें कुछ और हव, आपन थाती के आपन छाती के बातें कुछ और हव” जिसे मंत्री जी ने बहुत सराहा और कहा आप नॉन बिहारी होते हुए भी इतना सुंदर कहा मैं बहुत प्रभावित हुआ। कवयित्री सुमीता केशवा एवं के.के झा के संचालन में देश के प्रसिद्ध गायकों में श्री गौतम चटर्जी, सुनीता झा, अनिरुद्ध राणा, मालविका शुक्ला, अनिरुद्ध राना, विश्वनाथ भल्ला और मंजीरा गांगुली ने अपनी- अपनी बेहतरीन प्रस्तुति दी। समारोह के मुख्य अतिथी श्री अश्विनी कुमार चौबे जी (खाद्य व सार्वजनिक वितरण और पर्यावरण वन और जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री) के हाथों से दीप प्रज्ज्वलन हुआ। उन्होंने स्वरांजलि ट्रस्ट की तारीफ करते हुए अपने भाषण में कहा कि “ज्ञानेश्वर दुबे जी मैथिली रत्न हैं। संगीत व लोकसंगीत के क्षेत्र में उनका काम अभिनन्दनीय है।
कार्यक्रम में ट्रस्ट की सोविनियर व श्री आर.के मिश्रा के काव्य संग्रह” शंखनाद” का विमोचन आदरणीय मंत्री जी के हाथों हुआ। उसके बाद श्री ज्ञानेश्वर दुबे जी द्वारा शॉल व पुष्प गुच्छ देकर मंत्री जी का सम्मान किया गया। मंत्री जी द्वारा श्री राजेश कुमार साही जी (चेयरमैन ग्लोरी शिप मैनेजमेंट मुम्बई) को बेस्ट स्किल्ड इंडस्ट्रिलियस्ट एवॉर्ड से सम्मानित किया गया। मंत्री जी व प्रसिद्ध अभिनेता श्री फूल सिंग जी द्वारा श्री ज्ञानेश्वर दुबे जी का सम्मान किया गया और साथ ही साथ में श्री यू एस झा, श्री राजेश शाही, श्री शैलैन्द्र शुक्ला, श्री सुभाश झा, श्री अनिल सक्सेना, श्री भी एन झा, फूल सिंग, अंगद झा, लित झा और संजय राय आदि का सम्मान आदरणीय मंत्री जी के हाथों से सम्पन्न हुआ। आईपीएस, आईएएस अधिकारियों व शहर के गणमान्य व्यक्तियों से हॉल देर रात तक खचाखच भरा था। आभार ज्ञानेश्वर दुबे जी ने व्यक्त किया। रात्रिभोज के साथ कार्यक्रम का खूबसूरत ढंग से समापन हुआ।

Null

Leave a Reply

Your email address will not be published.