नीतीश साथ दें तो राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी कैंडिडेट को महागठबंधन से दोगुना वोट मिलेगा

File Photo

पटना:देश के 16वें राष्ट्रपति का चुनाव 21 जुलाई को होने वाला है। निर्वाचन आयोग इसकी घोषणा कर चुका है। राष्ट्रपति चुनाव में विधायक और लोकसभा एवं राज्यसभा के सांसद वोटर होते हैं। बिहार में 40 लोकसभा और 16 राज्यसभा मिलाकर कुल 56 सांसद हैं। इसके साथ ही बिहार विधानसभा के 243 विधायक हैं। इन सभी के वोटों के लिहाज से बिहार एक महत्वपूर्ण प्रदेश है। अगर नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू साथ दे तो बीजेपी नीत एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवार को बिहार में महागठबंधन से दोगुना वोट मिलेगा।

राष्ट्रपति चुनाव में बिहार के एक विधायक के वोट की वैल्यू 173 है। इस तरह विधायकों के सभी वोटों की कुल वैल्यू 42,039 है। वहीं, राज्यसभा और लोकसभा के प्रत्येक सांसद की वोट वैल्यू देशभर में 700 है। इस प्रकार बिहार के सांसदों के वोट का मूल्य 39,200 है। गणना के अनुसार बिहार के पास राज्यसभा, लोकसभा और विधानसभा तीनों मिलाकर कुल 81 हजार 239 मूल्य के वोट हैं। मालूम हो कि इस चुनाव में सांसद एवं विधायक हिस्सा लेते हैं। जहां सिर्फ राज्यसभा सांसद, लोकसभा सांसद और विधायकों को वोट देने का अधिकार होता है।

हालांकि पिछले कुछ समय से कांग्रेस और आरजेडी के सुर अलग नजर आ रहे हैं। इसके बावजूद राष्ट्रपति चुनाव के मद्दनेजर महागठबंधन में आरजेडी, कांग्रेस और वामदलों को जोड़कर देखें तो इनके कुल वोटों की संख्या 24,103 होती है। इनके साथ यदि AIMIM भी आती है तो कुल वोट वैल्यू 24,968 होती है। वहीं, एनडीए में जेडीयू, बीजेपी, हम और रालोजपा को मिलाकर वोटों की गणना करें तो वोटों का मूल्य 55,398 हो रहा है। इस तरह एनडीए के पास महागठबंधन से दोगुने से भी अधिक वोट हैं। वहीं, लोजपा (रामविलास) के एक सांसद के वोट की वैल्यू भी 700 है। देखना होगा कि लोजपा (रामविलास) चुनाव में किसका पक्ष लेती है।

राष्ट्रपति चुनाव में बिहार में राजनीतिक दलों के वोट की तुलना करें, तो सबसे अधिक वोट बीजेपी के पास हैं। इसके बाद जेडीयू और तीसरे स्थान पर आरजेडी है। बिहार विधानसभा में बीजेपी के 77 विधायकों के 13,321, जबकि लोकसभा में इसके सदस्यों की सदस्यों की संख्या 17 और राज्यसभा में पांच सांसद हैं। इस हिसाब से भाजपा के बिहार में कुल वोट वैल्यू की संख्या 28,721 है। राज्य में दूसरी बड़ी वोट वाली पार्टी जेडीयू है। इसके विधायकों के कुल 45 वोटरों के 7785 और लोकसभा के 16 सांसद व राज्यसभा के पांच सांसदों की 14,700 वोट वैल्यू है। इस तरह उसके पास कुल 22,485 वोट हैं।

वहीं, वोटरों के लिहाज से बिहार में तीसरे नंबर की पार्टी आरजेडी है। उसके पास 76 विधायकों के 13,148 और पांच सांसदों के 3500 वोट यानी राजद की कुल वोट वैल्यू 16,648 है। कांग्रेस के 19 विधायकों के 3287 और दो सांसदों (एक लोकसभा और एक राज्यसभा) के 1400 वोट हैं। इसी प्रकार कांग्रेस की कुल वोट वैल्यू 4687 है। वहीं, रालोजपा के पांच और लोजपा (रामविलास) के पास एक यानी 6 सांसदों के कुल वोट 4200 हैं।

अन्य दल और उनके वोट 
भाकपा-माले – 12 विधायक, वैल्यू 2076
AIMIM-    5 विधायक, वैल्यू 865
माकपा –     2 विधायक, वैल्यू 346
भाकपा-      2 विधायक, वैल्यू 346
हम-           4 विधायक, वैल्यू  692
निर्दलीय-     1  विधायक, वैल्यू 173
रालोजपा-    5 सांसद, वैल्यू 3500
लोजपा (रामविलास)- 1 सांसद, वैल्यू 700

Null

Leave a Reply

Your email address will not be published.